5 बच्चों को ड्रॉप पिला योगी ने किया पोलियो अभियान का शुभारंभ, बोले- प्रयास करते रहना जरूरी

लखनऊ। गोरखपुर में सीएम योगी ने जिला महिला अस्पताल में बच्चों को अपने हाथों से पोलियो की खुराक पिलाकर पल्स पोलियो अभियान का शुभारंभ कराया। इस दौरान उन्होंने कहा कि करीब 12 साल पहले ही हमने पोलियो का समाधान खोज लिया था। फिर भी, यह बीमारी संक्रामक है। ऐसे में जब तक इस बीमारी का वायरस पूरी तरह से दुनिया से खत्म नहीं हो जाता हमें इस मामले में ढिलाई नहीं बरतनी है।

खबरों के मुताबिक़ गोरखपुर जिला महिला अस्पताल के सामने स्थित परिसर में पल्स पोलियो अभियान के शुभारंभ अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को सीएम संबोधित कर रहे थे।

इस दौरान उन्होंने कहा कि स्वस्थ भारत अभियान, सशक्त भारत अभियान का हिस्सा है। इसे लेकर सभी संस्थाओं, जनप्रतिनिधियों और आमजन को सरकार के कार्यक्रमों से जुड़ना होगा। सब लोग एकसाथ सामूहिकता से जुड़ेंगे तो इसके सफल व सार्थक परिणाम आएंगे।

सामूहिकता के भाव से ही हमने 40 साल तक मासूमों पर कहर बरपाने वाली इंसेफेलाइटिस पर पूरी तरह नियंत्रण पाया है, वैश्विक महामारी कोरोना को काबू में कर पूरी दुनिया के सामने नजीर पेश की है।

बता दें, इस अवसर पर उन्होंने पांच बच्चों को अपने हाथ से पोलियोरोधी ड्राप भी पिलाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में 12 वर्ष पूर्व ही पोलियो की समस्या पर समाधान प्राप्त कर लिया है। पर, इन 12 वर्षों में पाकिस्तान, अफगानिस्तान समेत कुछ देशों में पोलियो के मामले सामने आए हैं।

बीमारी संक्रामक होने के नाते जब तक वायरस दुनिया से समाप्त नहीं हो जाता, खतरा बना रहता है। इसलिए पूरी दुनिया में पोलियो उन्मूलन होने तक हमें सार्थक प्रयास करते रहना होगा।

उन्होंने कहा कि जरा सोचिए, पोलियो की चपेट में जो बच्चे जिंदगी भर के लिए स्थाई विकलांगता के शिकार हो जाते हैं, उनके व उनके परिवारों पर क्या बीतती होगी। इसलिए सरकार पोलियो उन्मूलन अभियान को तब तक जारी रखेगी जब तक पूरी दुनिया से यह बीमारी उन मूलीच नहीं हो जाती।

सीएम योगी ने बताया कि पल्स पोलियो अभियान के तहत प्रदेश में पांच वर्ष तक के 3.80 करोड़ बच्चों को दो बूंद जिंदगी की (पोलियोरोधी ड्राप) पिलाई जाएगी। इतने बच्चों को बीमारी से सुरक्षा कवर देने के लिए 1.10 लाख बूथ बनाए गए हैं, साथ ही 76 हजार सचल टीमें लगाई गई हैं। जो नई पीढ़ी हमारे बीच आ रही है, हम इस अभियान को सफल बनाकर उसका बचाव करने में सक्षम होंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पल्स पोलियो अभियान के अलावा बच्चों को बीमारियों से बचाने के लिए मिशन इंद्रधनुष भी चलाया जाता है। मासूमों को पूरा टीकाकरण कवरेज समय पर देना होगा। यह हरेक बच्चे का अधिकार है, तो हम सभी का दायित्व भी। सीएम योगी ने धर्मगुरुओं, जनप्रतिनिधियों, संस्थाओं एवं जागरूक लोगों से अपील की कि वे पल्स पोलियो अभियान में अपना योगदान दें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

fifteen + 12 =

Back to top button