गोरखपुर में गरजे योगी… ‘पिछली सरकार ने कराए दंगे, पलायन को मजबूर हुए थे लोग’

लखनऊ। गोरखपुर से चुनावी मैदान में उतरे सीएम योगी शनिवार को अपने इलाके में डोर-टू-डोर कैम्पेन कर रहे हैं। इस कैम्पेन के दौरान सीएम योगी नें जनता को संबोधित करते हुए सपा को निशाने पर लिया और उनपर जानकर बरसे। सीएम योगी ने कहा कि पहले कुछ लोगों ने गोरखपुर की छवि खराब करने का प्रयास किया। मगर, अब जाकर यहां की स्थिति पहले से बेहतर हो पाई है। उन्होंने अपनी बातों में सपा को निशाने पर लेते हुए कहा कि पूर्व की सरकार में यहां दंगा करवाया गया, जिसकी वजह से यहां के लोगों को गोरखपुर से पलायन तक करना पड़ा था।

गौरतलब है कि गोरखपुर जिले की सभी विधानसभा सीटों के लिए यूपी चुनाव के छठे चरण में 3 मार्च को मतदान होना है। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस दफे खुद भी गोरखपुर शहर विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में हैं।

खबरों के मुताबिक़ सीएम योगी ने मेंहदीपुर के गोपाल मंदिर में पूजा-अर्चना की और गुरुद्वारा भी गए। सीएम ने इसके बाद सिख समुदाय के लोगों से डोर-टू-डोर जनसंपर्क भी किया। सीएम योगी ने लोगों के बीच अपनी सरकार के कार्यकाल के दौरान यूपी में आए परिवर्तन गिनाए और विकास के साथ सुशासन का संकल्प भी व्यक्त किया।

वहीं योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गुरुगोविंद सिंह का आशीर्वाद हमारे साथ है। दशकों से रही शहादत दिवस की मांग को माना गया। उन्होंने कहा कि मैं आपके बीच का आपका अपना आदमी हूं। हमारा संकल्प है कि सुशासन के साथ विकास करेंगे। उन्होंने लोगों से अपने मताधिकार का उपयोग जरूर करने की अपील की और कहा कि भोजन बाद में पहले मतदान।

सीएम योगी ने कहा कि परिवर्तन के लिए प्रदेश में एक लंबी एक्सरसाइज चली है। प्रयास से सब कुछ हो सकता है। उन्होंने कहा कि पहले गोरखपुर को हीन भावना से देखा जाता था। अब बदलाव आया है।

सीएम योगी ने कहा कि कुछ लोगों ने यूपी की पहचान खराब की। अब जाकर सुरक्षा का वातावरण मिला है। विकास हुआ है। उन्होंने कहा कि हर तबके का सम्मान हुआ है।

सीएम योगी ने डबल इंजन की सरकार को जरूरी बताया और कहा कि पिछली सरकार ने अपने लिए सोचा, दंगा और पलायन कराया। ये लोग अववस्था का कारण थे। आज व्यापारी का पलायन रुका है। उन्होंने कहा कि हर मां-बहन आज सुरक्षित है। गरीब कल्याण की योजनाएं गरीबों तक पहुंची हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button