विपक्ष पर बरसे योगी… ‘प्रदेश में भाजपा की आंधी, दगाबाज-दंगाबाज उड़कर हो जाएंगे गायब’

लखनऊ। यूपी चुनावों के मद्देनजर छठे और सातवें चरण के मतदान से पूर्व प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सपा पर धाकड़ प्रहार किया। साथ ही चुनावों से ठीक पहले भाजपा का साथ छोड़ सपा में शामिल होने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य को भी निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि दगाबाज और दंगाबाज का यह जोड़ अपने मंसूबों में कामियाब नहीं हो पाएगा। आज पूरे प्रदेश में भाजपा की आंधी अपना रंग दिखा रही है। इसमें यह दोनों दगाबाज और दंगाबाज उड़कर गायब हो जाएंगे। फलस्वरूप भाजपा अपना 300 पार का लक्ष्य पूरा कर प्रचंड बहुमत से प्रदेश में सरकार बनाएगी।

खबरों के मुताबिक़ मुख्यमंत्री शनिवार को फाजिलनगर में बीजेपी प्रत्याशी सुरेन्द्र सिंह कुशवाहा के समर्थन में जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

योगी ने कहा कि दस मार्च के बाद हमारी सरकार 60 साल की हर माता बहन को रोडवेज की बस में फ्री यात्रा की सुविधा देगी। हर उज्जवला योजना के लाभार्थी परिवार को होली और दिवाली पर मुफ्त गैस सिलेंडर देगी। कन्या सुमंगला योजना के तहत बेटी को उसकी शिक्षा के लिए 15 हजार की जगह 25 हजार, वृद्धजनों, विकलांग और विधवा को 12 हजार बढ़ाकर 18 हजार रुपये सालाना पेंशन और गरीब बेटी की शादी के लिए मिल रहे 51 हजार को बढ़ाकर एक लाख रुपये देने का निर्णय लिया है।

इस दौरान जनता से सीधा संवाद करते मुख्यमंत्री ने पूछा कि पांच साल में फाजिलनगर, कुशीनगर, गोरखपुर मंडल या पूर्वी उत्तर प्रदेश में कोई दंगा तो नहीं हुआ। दंगावाले कहां-कहां चले गये। क्या दंगावादी पार्टी आनी चाहिए? आज दगाबाज, दंगाबाजों से कैसे मिल रहे हैं। इनको जवाब देने के लिए तैयार रहिए।

उन्होंने कहा कि पांच साल पहले दुर्गा विसर्जन पर बवाल और छोटी छोटी बातों पर अराजकता फैलती थी। जन्माष्टमी का ढोल नहीं निकल पाता था। लेकिन पांच साल में तो कोई दुस्साहस नहीं कर पाया। यही बीजेपी का दंगामुक्त और भयमुक्त का वायदा था जिसे हमने पूरा किया।

इसके अलावा सीएम योगी ने कहा कि हर जिले में विकास और बुलडोजर की आवाज सुनायी दे रही है। हर जिलों में 2-4 बुलडोजर मरम्मत के लिए भेजे गये हैं। इनको रिपेयर किया जा रहा है। 10 मार्च के बाद इनका उपयोग होगा। सीएम योगी ने कहा कि बीजेपी की पूरे प्रदेश में आंधी देख बहुत से लोगों ने विदेश भागने का टिकट बुक करा लिये हैं, तो बेचारे छोट भइया नेपाल भागने की फिराक में हैं। इसलिए हमने नेपाल बार्डर पर सुरक्षा बढ़ा दी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

nineteen + eighteen =

Back to top button