विश्व बैंक (World Bank) का बड़ा फैसला, अफगानिस्तान में विकास के लिए दी जा रही फंडिंग को रोका

हाल ही में अफगानिस्तान में चल रहे तालिबानी नियंत्रण को देखते हुए वर्ल्ड बैंक ने अफगानिस्तान में चल रही परियोजनाओं के लिए फंडिंग रोक दी है। विश्व बैंक (World Bank) ने कहा कि, “तालिबान के नियंत्रण से अफगानिस्तान की सभी विकास की परियोजनाओं और खासकर वहां की सामाजिक परिस्थितियों विशेषकर महिलाओं पर बहुत बुरा असर पड़ेगा।” गौरतलब है कि आईएमएफ ने अफगानिस्तान को पहले ही भुगतान करना बंद कर दिया है। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने भी अफगानिस्तान सेंट्रल बैंक की संपत्तियों को भी जप्त कर लिया है।

यह भी पढ़ें – अफगानिस्तान के हालात पर पीएम मोदी ने रूस के राष्ट्रपति पुतिन (Putin) से की बात

विश्व बैंक (World Bank) के एक प्रवक्ता ने कहा कि, “हमने अफगानिस्तान में अपनी परियोजनाओं और ऑपरेशन के भुगतान पर पूरी तरीके से पाबंदी लगा दी है। हमने अफगानिस्तान के हालात पर अपनी आंतरिक नीतियों और प्रक्रिया के तहत नजर गड़ाये हुए हैं। हम अपने अंतरराष्ट्रीय साझेदारों और विकास में शामिल लोगों से बातचीत करना भी जारी रखेंगे और इसके साथ ही हम अपने साझेदारों के साथ अफगानिस्तान के लोगों की मदद के लिए भी कोशिश जारी रखेंगे और कोई ना कोई रास्ता अवश्य ही निकाल लेंगे।”

विश्व बैंक ने बीते शुक्रवार को कहा था कि,”काबुल से उनके स्टाफ को अफगानिस्तान से निकालकर सुरक्षित रूप से पाकिस्तान भेज दिया गया है।” विश्व बैंक का यह फैसला अफगानिस्तान की नई सरकार के लिए बहुत बड़ा झटका है। पिछले हफ्ते आईएमएफ ने कर्ज बंद करने की घोषणा की थी। जिसके बाद वर्ल्ड बैंक ने यह फैसला लिया है।

AUTHOR- FATIMA NAQVI

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen − 5 =

Back to top button