‘पश्चिम से लेकर पूर्व तक यूपी की महिलाएं भाजपा के साथ, कहा- भय और दंगामुक्त सरकार चुनेंगे’

लखनऊ। यूपी विधानसभा चुनाव अब अपने अंतिम पड़ाव पर पहुंच गया है। प्रदेश में चुनाव प्रचार का सिलसिला बीते दिन पूरी तरह से थम गया। ऐसे में इन चुनावों के लिए अंतिम जनसंवाद में सीएम योगी ने भाजपा के बीते शासनकाल में कराए गए विकास कार्यों के साथ ही भयमुक्त और दंगामुक्ति शासन की बीती रूपरेखा को दोहराया। साथ ही इस बात का भी दावा किया कि यूपी में पश्चिम से लेकर पूर्व तक प्रदेश की महिलाएं भाजपा के साथ हैं। वे सुरक्षा और भयमुक्त शासन चाहती हैं। यही वजह है कि बीते छह चरणों में वे सभी भाजपा के साथ खड़ी रही हैं और अंतिम चरण में भी प्रदेश की महिलाएं भाजपा का ही साथ देंगी।

खबरों के मुताबिक़ उत्तर प्रदेश में सातवें और आखिरी चरण के मतदान से पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2017 में भयमुक्त और दंगा मुक्त यूपी की बात कही गई थी। संकल्प पत्र के अनुसार उसको पूरा करते हुए चुनाव के 6 छह चरण सफलतापूर्ण शांतिपूर्वक तरीके से पूरे हो चुके हैं।

उत्तर प्रदेश की सरकार में हमने दंगा और भयमुक्त चुनाव कराया है। यहां पहले यह नहीं होता था। प्रचार के दौरान सबका साथ सबका विकास देखने को मिला है।

सीएम योगी ने आगे कहा कि 2014 से पहले कांग्रेस हो या अन्य, जाति-पाति के मुद्दों पर चुनाव होता था, धर्म सांप्रदायिकता के मामलों पर चुनाव होता था। हमने गरीब योजनाओं का लाभ सबतक पहुंचाने का काम किया है। मोदी जी के नेतृत्व में ये किया गया है। इससे पहले ये नहीं होता था।

योगी ने अपनी सरकार के कामों को गिनाते हुए कहा कि सपा-बसपा अपने कार्यकाल में वो सब नहीं कर पाए जो हमने किया।

उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से जिनके घर में बिजली नहीं थी, उनके घर बिजली और राशन उपलब्ध करवाया गया। एंटी रोमियो का गठन हमने सबसे पहले किया। महिलाओं ने हमें वोट किया हमें पसंद किया, फिर वे चाहे किसी जाति या धर्म की हो।

उन्होंने कहा कि हमने उज्जवला योजनाओं के तहत महिलाओं को सम्मान दिया। स्वामित्त योजनाओं के तहत महिलाओं को स्वाबलंबी बनाया।

सीएम योगी ने कहा कि यही वजह है कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश से पूर्वी तक महिलाओं ने कहा हम बीजेपी को भयमुक्त दंगा मुक्त सरकार के लिए चुनेंगे। चुनाव प्रचार में ये दिखा भी।

उन्होंने कहा कि हमने अन्नदाता किसानों का कर्ज माफ किया। अवैध बूचड़खानों को हमने बंद किया, जिसका साइड इफेक्ट होता हम जानते थे इसके लिए गौशाला खोली। एंटी रोमियो की मदद से बेटियों की सुरक्षा की। किसान को सीधा पैसा मिले इसके लिए भी इंतजाम किए गए। इतना ही नहीं उन्होंने आगे कहा कि अन्नदाता किसानों को शासन की योजनाओं का लाभ दिया गया। कोरोना काल में गन्ना चीनी मिल चलती रहीं। गौशाले खोलने के लिए पैसा दिया। 9 लाख गौवंश की सेवा हमने की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

seven − two =

Back to top button