यूजर्स ने कुछ ऐसे दिया रिएक्शन! …जब शाह ने यूपी की जनता से किया ये बड़ा वादा

नई दिल्ली। यूपी विधानसभा चुनावों को लेकर अभी भी घमासान जारी है। पहले दो चरणों के मतदान हो चुके हैं और तीसरे चरण का चुनाव 20 फरवरी को होना है, जिसमें 16 जिलों की 59 सीटों पर मतदान किया जाएगा। ऐसे में तीसरे चरण में जनता रुख अपनी और करके प्रदेश में भाजपा के रुख में हवा करने के प्रयास में अमित शाह ने एक बड़ा बयान दिया। इस बयान में कहा गया कि यूपी में भाजपा की सरकार बनने के बाद आने वाले पांच सालों तक किसानों को मुफ्त बिजली मुहैया कराई जाएगी। वहीं 10 मार्च के नतीजे अगर बीजेपी के पक्ष में आए तो होली के दिन यानी 18 मार्च को भाजपा सरकार की और से सभी प्रदेश वासियों के घर मुफ्त गैस सिलेंडर पहुंचाया जाएगा।

खबरों के मुताबिक़ अमित शाह द्वारा दिया गया यह दावा काफी लुभावना और जनता का रुझान खींचने वाला था। मगर रिएक्शन की बात की जाए तो सोशल मीडिया पर कुछ अलग ही हवा देखने को मिली। शाह के इस बयान के आने के बाद से ही यूजर्स ने जमकर शाह के इस बयान को ट्रोल करना शुरू कर दिया।

हेमंत नाम के एक यूजर ने कमेंट किया कि अभी किसकी सरकार है फिर? रजत नाम के एक यूज़र ने बीजेपी सरकार पर चुटकी लेते हुए लिखा कि अभी क्या ओबामा उत्तर प्रदेश के सीएम हैं क्या? प्रीति चौबे नाम की एक यूजर लिखती हैं – झूठ बोलते हो। 7 साल में तो किया नहीं।

राहुल नाम के ट्विटर यूजर लिखते हैं – बाबा रे बाबा। जुमले पे जुमले दिये जा रहे हो। अभी किसकी सरकार है फिर? निखत अली नाम की एक यूज़र लिखतीं हैं, ‘ अरे इन्हें कोई याद दिलाओ कि इस वक्त भी भाजपा की ही सरकार है।’

राघव नाम के एक यूजर ने लिखा कि भाषण में वजन डालने के लिए बोला गया जुमला। प्रदीप कुमार नाम के एक यूजर ने लिखा कि बाद में यह कहेंगे कि यह तो 15 लाख वाले की तरह एक जुमला था। मलिक नाम के एक यूजर ने हंसने वाली इमोजी के साथ कमेंट किया कि जब घरों में बिजली का सप्लाई ही बंद कर देंगे तो बिजली का बिल कैसे भरेंगे बताओ भाई। सूरज नाम के एक यूजर ने कमेंट किया – अरे टेनी के बेटे छूट गए हैं तो कोई किसान उनकी थार से बच पाएगा तब तो उनको बिजली मुफ्त देंगे ना? वहीं राजीव निगम नाम के टि्वटर हैंडल से लिखा गया, ‘ रहने ही दो, बाद में कहोगे कि वो चुनावी जुमला था।’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

one × 5 =

Back to top button