आईआईएम (IIM) रोड पर लखनऊ के बिठौली क्रॉसिंग पर यातायात को आसान बनाने के लिए आगामी फ्लाईओवर!

यह चार लेन की सुविधा सीतापुर रोड (IIM), हरदोई रोड, कानपुर रोड और लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर यात्रियों के लिए एक बड़ी राहत के रूप में आने वाली है।

लखनऊ में बिठौली क्रॉसिंग पर लगातार ट्रैफिक जाम को कम करने के उद्देश्य से, अधिकारियों ने एक नया फ्लाईओवर स्थापित करने की योजना बनाई है। आईआईएम (IIM) रोड से सीतापुर रोड के बीच एक कड़ी के रूप में कार्य करते हुए, यह आगामी सुविधा ट्रकों और अन्य वाहनों की आसान और तेज आवाजाही में मदद करेगी। इस विकास की मदद से बिठौली चौराहे पर यातायात का भार कम होगा और स्थानीय निवासियों को आवागमन के लिए एक बेहतर और बेहतर विकल्प मिलेगा।

यह भी पढ़ें – भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पहुंचे विधायक डॉ नीरज बोरा(Neeraj Bora) की माता स्व.श्रीमती सुशीला बोरा को पुष्पांजलि अर्पित करने

680 मीटर सड़क चार लेन की होगी सुविधा

एन.एन. के अनुसार गिरि, परियोजना निदेशक, एनएचएआई, बिठौली चौराहे को संगठन के रिकॉर्ड में एक ब्लैक स्पॉट के रूप में दर्ज किया गया है। अब आने वाली सुविधा से सीतापुर रोड के रास्ते लखनऊ आने वाले यात्रियों को राहत मिलेगी। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा प्रस्तावित, नियोजित फ्लाईओवर 680 मीटर की लंबाई में चार लेन की सुविधा होगी। जबकि परियोजना को मंजूरी दे दी गई है, हस्तक्षेप शुरू करने के लिए संबंधित निविदाएं जल्द ही शुरू की जाएंगी।

यह उम्मीद की जाती है कि फ्लाईओवर का निर्माण लगभग 140 करोड़ रुपये की लागत से किया जाएगा और अधिकारी 2023 तक इस परियोजना को समाप्त करने की योजना बना रहे हैं। एनएचएआई के निदेशक ने बताया कि इस फ्लाईओवर के डिजाइन को अंतिम रूप दिया गया है। प्रस्तावित सड़क बिठौली क्रॉसिंग से 400 मीटर पहले आईआईएम रोड पर शुरू होगी और एलिवेटेड सेक्शन कुल 25 पियर पर खड़ा होगा।

फ्लाईओवर के दोनों तरफ 500 मीटर लंबी अप्रोच सड़कें होंगी

यह सूचित किया गया है कि फ्लाईओवर को 500 मीटर प्रत्येक के दोनों छोरों पर पहुंचने वाली सड़कों से जोड़ा जाएगा। इसके अलावा, दोनों पक्षों में सर्विस लेन भी होंगी, जो प्रत्येक की लंबाई 8.5 मीटर से अधिक होगी।एनएचएआई के अधिकारियों के मुताबिक सीतापुर रोड पर टोल प्लाजा से रोजाना करीब 40 से 45 हजार यात्री गुजरते हैं। नए फ्लाईओवर के बनने से ये नागरिक बिना भारी ट्रैफिक जाम में फंसे आसानी से यात्रा कर सकेंगे। इसके अलावा हरदोई रोड, कानपुर रोड और लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे से आने वाले यात्रियों को भी फायदा होगा।

AUHTOR – FATIMA NAQVI

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twelve − 3 =

Back to top button