‘मोहल्ला क्लीनिक’ की तर्ज पर पंजाब में ‘मोहल्ला गवर्नेंस’ के संकेत, 16 मार्च को सीएम शपथ

नई दिल्ली। 92 सीटों पर फतह हासिल करने के बाद पंजाब से कांग्रेस का सफाया करने वाली आम आदमी पार्टी जल्द ही यहां अपनी सरकार बनाने वाली है। इस बात का ऐलान कर दिया गया है कि भगवंत मान 16 मार्च को सीएम पद की शपथ लेंगे। वहीं इसके साथ ही पंजाब में गवर्नेंस को लेकर भी कई तरह के कयास लगाए जा रहे थे, लेकिन भगवंत मान ने विधायक दल की बैठक में इस बात को साफ करते हुए कहा कि पंजाब में उनकी नई सरकार गांव, मोहल्ले और वार्ड से चलेगी। ताकि पंजाब में ‘आप’ की सरकार बनाने वाली जनता को सभी सरकारी सुविधाओं का लाभ उनके दर पर दिया जा सके।

खबरों के मुताबिक़ पंजाब में सरकार गठन से पहले भावी मुख्यमंत्री भगवंत मान ने दिल्ली के मोहल्ला क्लिनिक की तर्ज पर पंजाब में मोहल्ला गवर्नेंस के संकेत दिए हैं।

भगवंत मान ने 11 मार्च को विधायक दल की बैठक में साफ कहा कि विधायक और अधिकारी अपनी गतिविधियों को गांव की ओर शिफ्ट करें। आम आदमी पार्टी को वोट देने वालों को उनके दरवाजे पर सुविधाएं दी जाएं।

विधायक दल की बैठक में भगवंत मान ने कहा कि मैं इसे लेकर सख्त हूं। आप चंडीगढ़ में नहीं रहोगे। हम वार्ड और मोहल्ला की सरकार देंगे। पंजाब सरकार में मुख्यमंत्री समेत कुल 17 मंत्री बनाए जाने हैं।

भगवंत मान ने विधायकों को लॉबिंग नहीं करने का संदेश दिया और कहा कि मैं सभी विधायकों को मंत्री की ही तरह ट्रीट करूंगा।

उन्होंने विधायकों को ये भी संदेश दिया कि किसी को भी नहीं धमकाएं। हम लोगों को ये आश्वस्त करते हैं कि फाल्स एफआईआर का कल्चर सूबे से समाप्त करेंगे।

गौरतलब है कि भगवंत मान 12 फरवरी को राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे।

AAP सरकार के गठन से पहले निवर्तमान मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने अपने कार्यकाल के दौरान हुई घोषणाओं को लेकर चिंता जताई है।

चन्नी ने बजटीय प्रावधान के बिना भर्ती, 800 करोड़ रुपये का बकाया बिल माफ करने और आठ एलपीजी सिलेंडर मुफ्त देने का ऐलान किया था। बिजली सब्सिडी पर ही 13316 करोड़ रुपये से अधिक का खर्च आएगा। चरणजीत सिंह चन्नी ने AAP सरकार के दौरान इनमें से किसी भी निर्णय को वापस न लेने की अपील की है।

बता दें कि दिल्ली में सत्ता में आने के बाद AAP ने मोहल्ला क्लिनिक शुरू किया था। AAP मोहल्ला क्लिनिक को अन्य प्रदेशों में ट्रंप कार्ड के तौर पर प्रचारित करती रही है।

अब, जबकि पंजाब जैसे राज्य में AAP की सरकार के कामकाज पर सबकी नजरें टिकी हैं, इसे AAP के टेस्ट की तरह देखा जा रहा है, सरकार गठन से पहले ही भगवंत मान ने मोहल्ला गवर्नेंस की बात कर दी है। ध्यान रहे, पंजाब के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (AAP) को प्रचंड जनादेश मिला है। 117 में से 92 सीटें जीतकर AAP सरकार बनाने जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

17 − 13 =

Back to top button