25 से सात दिवसीय श्रीरामकथा का शुभारंभ, लम्बे समय बाद लखनऊ में होंगी साध्वी ऋतम्भरा

लखनऊ। कथा वाचक पूजनीया दीदी मां साध्वी ऋतम्भरा लम्बे समय बाद लखनऊ में होंगी। शुक्रवार की शाम श्रीराम कथा सुनाने के उद्देश्य से राजधानी आ रहीं साध्वी की अगुवानी की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। सीतापुर रोड पर सेवा अस्पताल के निकट स्थित रेवथी रिसार्ट के लॉन में आगामी 25 से 31 दिसम्बर तक श्रीराम कथा का आयोजन भारतीय लोक शिक्षा परिषद द्वारा किया गया है, जिसके मुख्य यजमान भाजपा विधायक डा. नीरज बोरा हैं। सात दिवसीय कथा के प्रथम दिवस वे श्रीराम नाम महिमा का बखान करेंगी।

यह जानकारी गुरुवार को भारतीय लोक शिक्षा परिषद लखनऊ चैप्टर के संरक्षक गिरिजाशंकर अग्रवाल, उपाध्यक्ष आशीष अग्रवाल, महामंत्री भूपेन्द्र कुमार अग्रवाल ‘भीम’ एवं आयोजन समिति के पदाधिकारी भारत भूषण गुप्ता व मनोज अग्रवाल ने एक प्रेस वार्ता में दी। पुरनिया स्थित कैम्प कार्यालय में मीडिया से बात करते हुए पदाधिकारियों ने बताया कि दीदी मां के मुख से श्रीराम गुणगान प्रतिदिन सुबह 11 से दोपहर 2 बजे तक होगा। वहीं कथा के पश्चात सभी श्रद्धालुओं के लिए भोजन प्रसाद की भी व्यवस्था की गई है।

लम्बे समय के बाद लखनऊ आ रहीं साध्वी ऋतम्भरा की श्रीरामकथा में आयोजन समिति द्वारा प्रधानमंत्री, राज्यपाल, मुख्यमंत्री समेत विभिन्न राजनेताओं को आमंत्रित किया गया है। यातायात व्यवस्था और सुरक्षा के लिए प्रशासन से भी मदद मांगी गई है।

कथा स्थल पर भव्य पांडाल के निर्माण का कार्य अन्तिम चरण में हैं। बुधवार को वात्सल्य ग्राम से पधारीं दीदी सत्यप्रिया ने तैयारियां भी देखीं। शहर भर में होर्डिंग-बैनर के साथ ही सोशल मीडिया पर प्रचार का काम जारी है। सनातन परम्परा को ध्यान में रखते हुए श्रद्धालुओं को हल्दी अक्षत के साथ निमंत्रण पत्र भेजा गया है। आयोजन में एकल अभियान के प्रमुख कार्यकर्त्ताओं के साथ नगर के प्रमुख भक्तों को कथा संबन्धी अलग अलग जिम्मेदारी भी दी गयी है।

प्रथम दिवस दुन्दुभि व शंखनाद के साथ रामायण की शोभा यात्रा साध्वी ऋतम्भरा जी के साथ कथा स्थल पहुंचेंगी। कथा स्थल पर कोरोना हेल्प डेस्क की स्थापना की जा रही है। इसके साथ ही एम्बुलेंस, दमकल की गाड़ियां भी मौजूद रहेंगी।

कोविड के नये वैरिएंट को देखते हुए आवश्यक सावधानी बरतने के साथ-साथ श्रद्धालुओं से आग्रह किया गया है कि वे कथा स्थल पर मास्क लगाकर आयें। प्रेस वार्ता के दौरान डॉ. एस.के. गोपाल, अनुराग साहू समेत आयोजन समिति के अन्य सदस्य भी मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × 5 =

Back to top button