लोकसभा में रक्षा मंत्री ने दिया CDS हेलीकॉप्टर क्रैश का पूरा ब्यौरा, जाने किसे सौंपा गया जांच का जिम्मा

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरूवार को लोकसभा में सीडीएस बिपिन रावत की मृत्यु पर दुःख प्रकट करते हुए बताया कि बुधवार को देश ने अपना एक बड़ा सैन्य अफसर खो दिया है। उन्होंने कहा कि बीते दिन हुई इस दुखद हवाई दुर्घटना में सीडीएस बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत के साथ अन्य सैन्य अधिकारी देश ने खो दिए हैं। यही जानकारी देने मैं यहां आज उपस्थित हुआ हूं।

उन्होंने बताया कि सीडीएस बिपिन रावत और उनकी पत्नी समेत इस दुर्घटना में 13 लोगों की जान चली गई। यह घटना उस वक्त हुई जब सीडीएस जनरल बिपिन रावत डिफेंस सर्विस वाले वेंलिंगटन के स्टूडेंट्स के साथ बातचीत करने के लिए अपने शेड्यूल विजिट पर थे।

दरअसल वायुसेना के एमआई-17वी-5 हेलिकॉप्टर ने बुधवार को 11 बजकर 48 मिनट पर सुलूर एयरबेस से उड़ान भरी,जिसे 12:15 मिनट पर वेलिंगटन में लैंड करना था। सुलूर एयर बेस के एयर ट्रैफिक कंट्रोल ने लगभग 12 :08 पर हेलिकॉप्टर से अपना कॉन्टैक्ट खो  दिया।

बाद में कुन्नूर के स्थानीय लोगों ने जंगल में आग लगी हुई देखी। जब वह पास में पहुंचे तो उन्होंने मिलिट्री हेलिकॉप्टर को आग की लपटों से घिरा हुआ पाया। स्थानीय प्रशासन से एक बचाव दल उस जगह पहुंच गया। उन्होंने क्रैश साइट से सर्वाइवर्स को रिकवर करने का भी प्रयास किया। हेलिकॉप्टर से जितने भी लोगों को निकाला जा सका, सबको वेलिंगटन के मिलिट्री अस्पताल में भर्ती कराया गया। मिली जानकारी के मुताबिक, उस हेलिकॉप्टर में सवार 14 में से 13 लोगों की मृत्यु हो गई।

रक्षा मंत्री ने कहा, वायुसेना चीफ वीआरएस चौधरी को घटना की सूचना मिलते ही बुधवार को घटनास्थल पर भेज दिया गया है। उन्होंने घटनास्थल और वेलिंगटन अस्पताल जाकर स्थिति का जायजा लिया। इस घटना की जांच एयर मार्शल मानविंदर सिंह करेंगे। जांच टीम ने कल ही कुन्नूर पहुंचकर अपना काम शुरू कर दिया है।

राजनाथ ने बताया कि जिन लोगों की मृत्यु हुई उन लोगों में सीडीएस बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका, उनके रक्षा सलाहकार ब्रिगेडियर एलएस लिड्डर, लेफ्टिनेंट कर्नल हरजिंदर सिंह, नायक गुरसेवक सिंह, नायक जितेंद्र कुमार, लांस नायक विवेक कुमार, लांस नायक बी साई तेजा और हवलदार सतपाल शामिल थे। उन्होंने कहा कि सभी पार्थिव शरीर को आज शाम दिल्ली लाया जाएगा। ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का अस्पताल में इलाज जारी है और उन्हें हरसंभव मदद दी जा रही है। सीडीएस विपिन रावत का पूरे सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा। वहीं अन्य सैन्य अफसरों को भी अंतिम संस्कार की प्रक्रिया के दौरान सैन्य सम्मान दिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button