प्रधानमंत्री Security Breach का मामला पहुंचा सुप्रीम कोर्ट

एक तरफ जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच चुका है। वहीं दूसरी तरफ पंजाब की चन्नी सरकार ने मामले की जांच के लिए हाई-लेवल कमेटी बनाई है।

पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक के मामले को सुप्रीम कोर्ट में चीफ जस्टिस एनवी रमन्ना के समक्ष मेंशन किया गया है। चीफ जस्टिस की बेंच इसपर शुक्रवार को सुनवाई का फैसला कर सकती है।

जानकारी के मुताबिक, सीनियर एडवोकेट मनिंदर सिंह ने इस मामले से जुड़ी जनहित याचिका दायर की है। याचिका में कहा गया है कि इस तरह की सुरक्षा में चूक स्वीकार्य नहीं की जा सकती। याचिका में सीनियर एडवोकेट मनिंदर सिंह ने पंजाब सरकार को उचित निर्देश देने, उत्तरदायी लोगों के खिलाफ सख्त एक्शन लेने की मांग की है।

सीएम चन्नी ने बनाई जांच के लिए कमेटी

प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक के मामले पर पंजाब सरकार ने मसले की जांच के लिए हाई-लेवल कमेटी बनाई है। यह कमेटी तीन दिनों में अपनी रिपोर्ट पेश करेगी।

बता दें कि पंजाब के फिरोजपुर में होने वाली पीएम मोदी की रैली रद्द होने के बाद सियासी पारा गरम है। पीएम मोदी ने पंजाब एयरपोर्ट से लौटते समय एयरपोर्ट के अधिकारियों से कहा था कि अपने सीएम को आप लोग मेरी तरह से धन्यवाद करना कि मैं ज़िंदा एयरपोर्ट वापस लौट पाया।

खबरों के मुताबिक़ यह बात न्यूज एजेंसी एएनआई के माध्यम से जग जाहिर हुई। उनका कहना है कि भठिंडा हवाई अड्डे के अधिकारी ने बताया कि भठिंडा हवाई अड्डे पर लौटने पर पीएम मोदी ने वहां के अधिकारियों से कहा, “अपने मुख्यमंत्री को धन्यवाद कहना कि मैं भठिंडा हवाई अड्डे तक जिंदा लौट पाया।”

बताया जा रहा है कि फिरोजपुर के अलावा पीएम मोदी को 9 जनवरी को उत्तर प्रदेश के लखनऊ में भी एक रैली करनी थी। मगर, ऐसे में यह रैली भी रद्द कर दी गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button