काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण: पीएम मोदी ने काल भैरव मंदिर में की पूजा

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दो दिवसीय यात्रा पर सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे। बाबतपुर स्थित लाल बहादुर शास्त्री अंतर राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर प्रधानमंत्री विशेष विमान से जैसे ही विमानतल पर उतरे वहां पहले से मौजूद प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ,राज्यपाल आनन्दीबेन पटेल ने पुष्पगुच्छ देकर गर्मजोशी से स्वागत किया।

हवाई अड्डे पर थोड़ी देर औपचारिक बातचीत के बाद प्रधानमंत्री सड़क मार्ग से कड़ी सुरक्षा के बीच वाहनों के काफिले में काशी के कोतवाल बाबा कालभैरव के दरबार के पूजा की। यहां विधि विधान से दर्शन पूजन कर प्रतीक रूप से काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण की अनुमति मांगी। यहां से सड़क मार्ग से दोपहर सवा 12 के करीब राजघाट पहुंचेंगे। राजघाट से क्रूज से चलकर दोपहर लगभग एक बजे के करीब ललिताघाट पहुंच कर श्रीकाशी विश्वनाथधाम में प्रवेश करेंगे। मंदिर में दर्शन पूजन व धाम का लोकार्पण करने के बाद मंदिर में निर्मित भवनों को देखेंगे।

मंदिर में लगभग सवा दो घंटे ठहराव के दौरान प्रधानमंत्री संतों से संवाद करेंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री के साथ देश 14 मुख्यमंत्री और दो उपमुख्यमंत्री भी रहेंगे।प्रधानमंत्री मंदिर में कार्यक्रम समाप्त होने के बाद दोपहर सवा तीन बजे ललिता घाट जेटी से क्रूज से रविदास पार्क घाट पहुंचेंगे। इसके बाद सड़क मार्ग से वाहनों के काफिले में बरेका गेस्ट हाउस जाएंगे। यहां कुछ देर आराम करने के बाद शाम को लगभग साढ़े पांच बजे गेस्ट हाउस से रविदास पार्क आएंगे।

इसके बाद यहां से बजड़े पर सवार होकर गंगा आरती देखेंगे व मुख्यमंत्रियों के साथ संवाद भी करेंगे। प्रधानमंत्री इस दौरान गंगा में लगभग तीन घटे तक रहेंगे। इसके बाद रविदास पार्क लौटकर पुन: बीएलडब्ल्यू गेस्ट हाउस हाउस आ जाएंगे।

रात्रि प्रवास के बाद अगले दिन यानी 14 दिसंबर को मुख्यमंत्रियों व जनप्रतिनिधियों के सम्मलेन में भाग लेंगे। इसके बाद प्रधानमंत्री दोपहर लगभग तीन बजे बरेका हेलीपैड से स्वर्वेद महामंदिर धाम, उमरहा के लिए प्रस्थान करेंगे। दर्शन पूजन के साथ ही यहां भक्तों को संबोधित करेंगे। लगभग सवा घंटा यहां ठहराव के बाद उमरहा हेलीपैड से हेलीकाप्टर से बाबतपुर एयरपोर्ट आएंगे। प्रधानमंत्री शाम पांच बजे एयरपोर्ट से दिल्ली के लिए प्रस्थान करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button