एक ओर चल रही भगवंत मान के शपथ ग्रहण की तैयारी, दूसरी ओर सिद्धू ने दिया इस्तीफा

नई दिल्ली बुधवार को जहां एक ओर पंजाब में आम आदमी पार्टी से जीत हासिल करने वाले भगवंत मान के सीएम पद के लिए शपथ ग्रहण की तैयारियां जोरों पर चल रही है। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस की यहां करारी हार के बाद सोनिया गांधी की मांग पर नवजोत सिंह सिद्धू ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। बता दें, सिद्धू ने अपना इस्तीफा महज दो लाइन में लिख कर ही ख़त्म कर दिया। इसमें सिद्धू ने लिखा, कांग्रेस अध्यक्ष की इच्छा के मुताबिक मैं पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देता हूं।

खबरों के मुताबिक़ 5 राज्यों में मिली हार के बाद कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी ने इन सभी राज्यों के प्रदेश अध्यक्षों से इस्तीफे की मांग की थी। 

इसके बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने ट्वीट कर इस्तीफे की जानकारी दी। नवजोत सिद्धू ने कहा, कांग्रेस अध्यक्ष की इच्छा के मुताबिक मैं पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देता हूं। 

दूसरी ओर आम आदमी पार्टी के नेता भगवंत मान के पंजाब के मुख्यमंत्री के तौर पर बुधवार को होने वाले शपथ ग्रहण समारोह को लेकर व्यापक इंतजाम किए गए हैं।

यह समारोह शहीद भगत सिंह (एसबीएस) नगर जिले में स्थित खटकड़ कलां गांव में होगा जोकि स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह का पैतृक गांव है। आम आदमी पार्टी (आप) के सूत्रों ने बताया कि मान बुधवार को अकेले ही शपथ ग्रहण करेंगे।

वहीं यह भी जानकारी सामने आ रही है कि पंजाब मंत्रिमंडल में मुख्यमंत्री समेत 18 मंत्री हो सकते हैं। शपथ ग्रहण समारोह में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत पार्टी के अन्य नेता शामिल होंगे।

बता दें, हालिया नतीजों में पंजाब विधानसभा की 117 सीटों में से आप ने 92 सीटों पर जीत दर्ज की है। अधिकारियों का अनुमान है कि समारोह में तीन लाख से अधिक लोग शामिल हो सकते हैं।

वहीं कांग्रेस की बात करें तो सोनिया के आदेश के बाद सिद्धू के साथ ही उत्तराखंड कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने कहा कि राज्य विधानसभा चुनाव में पार्टी की हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए अपना त्याग पत्र सौंप दिया है। इसके अलावा अजय कुमार लल्लू ने भी यूपी कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है।

लल्लू ने ट्वीट किया, ”विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी के हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए उप्र कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहा हूं। मेरे जैसे सामान्य कार्यकर्ता पर भरोसा जताने के लिए शीर्ष नेतृत्व का आभार। कार्यकर्ता के तौर पर आम आदमी के अधिकारों की लड़ाई लड़ता रहूंगा।”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

seven + 9 =

Back to top button