अब Dengue और वायरल के मरीज़ो के लिए इस्तेमाल होंगे कोरोना मरीज़ो के बेड: योगी आदित्यनाथ

योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को राज्यव्यापी सफाई शुरू करने का आदेश दिया, Dengue मरीज़ो की बढ़ती संख्या से निपटने के लिए 5 सितंबर से शुरू हो रहा स्वच्छता अभियान उत्तर प्रदेश में डेंगू के मामले तेज़ी से बढ़ रहे है। साथ ही उन्होंने अधिकारियों को Dengue मरीज़ो के लिए कोरोना मरीज़ो के बेड इस्तेमाल के निर्देश दिए डेंगू रोगियों और उन लोगों के इलाज के लिए कोविड और कोविड आइसोलेशन बेड अन्य वायरल संक्रमणों के साथ सारे बारिश और बाढ़ के हालत पर नज़र रखने को कहा ।

पढ़ें पूरी खबर – लखनऊ के क्लब मालिकों को गया Notice, 10 बजे के बाद भी खोल रखे थे क्लब

राज्य के विभिन्न हिस्सों से डेंगू सहित संक्रामक रोगों की सूचना के मद्देनजर, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को संबंधित अधिकारियों को 5 सितंबर (रविवार) से राज्यव्यापी सफाई और स्वच्छता अभियान चलाने और संक्रामक रोगों की राज्यव्यापी निगरानी साफ़ करने का निर्देश दिया। 7 सितंबर (मंगलवार) से।

योगी ने Dengue के रोगियों और अन्य वायरल संक्रमणों की चपेट में आने वाले मरीजों के इलाज के लिए कोविड और कोविड आइसोलेशन बेड का उपयोग करने के लिए भी कहा। मुख्यमंत्री ने ये निर्देश दिए की कोविड-19 समीक्षा बैठक में जारी किए और जिलों के लिए नियुक्त नोडल अधिकारियों को अपने-अपने जिलों में स्वच्छता और स्वच्छता अभियान की जिम्मेदारी लेने को कहा। उन्होंने उन्हें भारी बारिश और बाढ़ से प्रभावित जिलों में स्थितियों की निगरानी करने और वहां राहत उपायों की निगरानी करने का भी निर्देश दिया।

“स्वास्थ्य विभाग को आशा और आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और संबंधित कर्मचारियों की मदद से 7 सितंबर से राज्यव्यापी निगरानी शुरू करनी चाहिए। स्वास्थ्य कर्मियों को घर-घर जाकर बुखार या कोविड जैसे लक्षणों वाले लोगों का पता लगाना चाहिए। साथ ही 45 वर्ष से अधिक उम्र के ऐसे लोगों की सूची बनाएं, जिन्होंने अभी तक वैक्सीन की पहली खुराक नहीं ली है। उन्हें अपनी खुराक लेने के लिए प्रोत्साहित करें, ”योगी ने कहा।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार 25 सितंबर को राज्य के सभी 826 विकासखंडों में ‘गरीब कल्याण मेला’ (गरीबों के कल्याण के लिए मेले) का आयोजन करेगी। भोजन में शारीरिक रूप से अक्षम लोगों को कृत्रिम अंगों और इस तरह की सहायता का वितरण और संभावित लाभार्थियों को पेंशन, घर, स्वरोजगार और ऐसी अन्य योजनाओं से जोड़ना होगा।

निर्माण सामग्री की लागत की जाँच करें

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य सरकार को पता चला है कि विभिन्न निर्माण सामग्री जैसे सीमेंट, रेत, मोटे बालू, गिट्टी और ऐसे अन्य सामान ऊंचे दामों पर बेचे जा रहे हैं। उन्होंने खनन विभाग को तत्काल निरीक्षण कर इसकी जांच करने को कहा।

AUTHOR – FATIMA NAQVI

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × 5 =

Back to top button