भाजपा प्रत्याशी ने साधा विपक्ष पर निशाना, ‘सरदार पटेल’ का जिक्र कर दिखाया हकीकत का आईना

लखनऊ। भाजपा को एक बार फिर दोबारा प्रदेश में सत्ता में लाने और खुद की दावेदारी को प्रबल बनाने के उद्देश्य लखनऊ उत्तर के भाजपा प्रयाशी डा. नीरज बोरा इन दिनों लगातार प्रयासरत हैं। इस कड़ी में रविवार को उन्होंने अपने क्षेत्र में कई जगहों पर बैठक एवं पदयात्रा के माध्यम से लोगों से बातचीत की। साथ ही भाजपा के विचारों को प्रसार देने का काम किया।

जानकीपुरम में आयोजित बैठक के दौरान उन्होंने काशी के बाद मथुरा में बांके बिहारी मंदिर के भाजपा विजन को लोगों के साथ साझा किया।

लक्ष्मी नगर कालोनी में आयोजित बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने भाजपा को विचारों की पार्टी बताया और लोगों से प्रदेश में डबल इंजन की सरकार को दोबारा सत्ता में लाने की अपील की।

वहीं अलीगंज में लोक सेवा आयोग बिल्डिंग के पीछे आयोजित एक बैठक में उन्होंने विपक्षी दलों को भी निशाने पर लिया।

इस बैठक में सरदार वल्लभ भाई पटेल को याद करते हुए उन्होंने कहा कि सरदार पटेल एक महान स्वतंत्रा सेनानी थे, जिनके बलिदानों को ध्यान में रखते हुए भाजपा ने उनके सम्मान में स्टेचू ऑफ़ यूनिटी बनवाया। सरकार के इस कार्य के लिए पूरे देश ने भाजपा सरकार कि सराहना की।

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के द्वारा सरदार पटेल को दिया गया सम्मान कुछ राजनैतिक दलों को रास नहीं आया। किसी पार्टी का नाम लिया बिना ही नीरज बोरा ने कहा कि इन राजनैतिक दलों ने कहा कि अगर सरदार वल्लभ भाई पटेल स्वतंत्रता सेनानी थे तो मोहम्मद अली जिन्ना भी स्वतंत्रा सेनानी थे। उन्हें भी हमें ऐसे ही सम्मान देना चाहिए। ऐसा कहते हुए इन राजनैतिक दलों ने भाजपा के विरोध में आवाम को करने का प्रयास किया। मगर, हुआ इसका उल्टा ही।

नीरज बोरा ने कहा कि उन राजनैतिक दलों को भाजपा को जवाब देने की जरूरत नहीं पड़ी। जिस देश की आवाम को वे लोग भाजपा के विरोध में खड़ा करना चाहते थे, उसी आवाम ने उन राजनैतिक दलों को मुंहतोड़ जवाब दिया और जिन्ना वाले उनके बयान के प्रति नाराजगी जाहिर की।

इसके अलावा उन्होंने भाजपा की सोच और नीतियों का जिक्र करते हुए कहा, “भाजपा सरकार राष्ट्रवादी नीतियों पर चलने वाली सरकार है।”

अपनी बातों को आगे बढ़ाते हुए उन्होंने कोरोना काल का भी जिक्र करते हुए विपक्षियों को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि कोरोना वैक्सीन जब नई-नई भारत में आई थी, तो उन्होंने इस वैक्सीन का काफी विरोध किया। मगर, खुद के बचाव के लिए उनके ही पिता (मुलायम सिंह) ने आगे बढ़कर कोरोना वैक्सीन लगवाई।

अपनी बातों को आगे बढ़ाते हुए नीरज बोरा ने अमेरिका और भारत की तुलना करते हुए कहा कि अमेरिका भारत की आबादी की तुलना में बहुत ही कम है, लेकिन वहां पर करोना काफी फैला। वजह यह है कि वहां पर एक दूसरे में भाईचारे की कोई बात नहीं है।

उन्होंने कहा कि मगर, भारत की संस्कृति ऐसी है कि वह एक दूसरे की मदद करते हैं। हमारे यहां जब घर में परिवार में एक रोटी भी बनती है, तो एक रोटी पशुओं के लिए भी बनती है। फिर भी हमने पूरी शिद्दत के साथ कोरोना जैसी महामारी का सामना किया और उसे देश में बढ़ने से रोका।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी द्वारा पूरे देश में वैक्सीनेशन का कार्य कराया गया। जिसका असर है कि 100 करोड से अधिक लोगों को कोरोना की वैक्सीन लग चुकी है।

इसके बाद अंत में उन्होंने चुनाव का जिर्क करते हुए उन्होंने लोगों से डबल इंजन की सरकार दोबारा यूपी में बनाने की अपील की। इस दौरान बैठक में भाजपा प्रत्याशी नीरज बोरा के साथ उत्तर विधानसभा प्रभारी शैलेंद्र अटल, मंडल उपाध्यक्ष चंद्रशेखर गुप्ता, वार्ड अध्यक्ष सुरेश सिंघल, मंडल महामंत्री विशाल और कई भाजपा कार्यकर्ता और क्षेत्रीय लोग शामिल हुए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

sixteen − 8 =

Back to top button