SDM की पिटाई से नायब नाजिर की मौत… योगी ने किया सस्पेंड, हो सकते गिरफ्तार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के एसडीएम को नायब नाजिर की पिटाई करना काफी भारी पड़ गया है। बताया जा रहा है कि एसडीएम द्वारा पीटे जाने के बाद नायब नाजिर बुरी तरह से घायल हो गया था, जिसके बाद उसे स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां शनिवार देर रात उसकी मौत हो गई। इस मामले के उजागर होने के बाद सीएम योगी ने सख्त एक्शन लेते हुए एसडीएम ज्ञानेंद्र विकास को सस्पेंड कर दिया है।

खबरों के मुताबिक लालगंज तहसील के नायब नाजिर सुनील कुमार शर्मा की शनिवार देर रात जिला अस्पताल में मौत हो गई थी।

उन्हें 30 मार्च की रात तहसील परिसर में बुरी तरह पीटा गया था जिसके बाद सुनील ने एसडीएम पर पिटाई का आरोप लगाते हुए तहरीर थाने में दी थी। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। जल्द ही हत्यारोपी एसडीएम की गिरफ्तारी हो सकती है।

वहीं, मृतक सुनील शर्मा के बेटे सुधीर शर्मा का आरोप है कि 30 मार्च को उनके पिता सरकारी आवास में थे। रात 9 बजे अचानक उपजिलाधिकारी लालगंज ज्ञानेंद्र विक्रम सिंह अपने तीन साथियों के साथ घर में घुस आए और जमकर उनकी पिटाई कर दी।

मृतक के बेटे ने कहा कि उनके पिता सिर्फ 6 हजार ईंटों की मांग कर रहे थे, ताकि तहसील कैम्पस की बाउंड्री बनवाने का कार्य हो सके। उन्होंने कहा कि ज्ञानेंद्र विक्रम सिंह और उसके साथियों की पिटाई के कारण नायब नाजिर सुनील शर्मा की हालत बिगड़ गई, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान सुनील शर्मा की मौत हो गई।

बता दें, पिछले दिनों लालगंज तहसील के नायब नाजिर सुनील शर्मा ने एक आरोप लगाया था कि एसडीएम ज्ञानेंद्र विक्रम सिंह ने 30 मार्च की रात उनकी पिटाई की थी। दूसरे दिन उसकी रिपोर्ट नहीं दर्ज की गई लेकिन एडीएम के निर्देश पर उसकी चोटों का मेडिकल कराया गया। बाद में उन्हें लालगंज ट्रामा सेंटर में भर्ती करा दिया गया।

जिला ट्रेड यूनियन कौंसिल के अध्यक्ष हेमंत नंदन ओझा ने शनिवार को जिलाधिकारी को शिकायती पत्र देकर आरोप लगाया था कि सुनील शर्मा की हालत बिगड़ गई है लेकिन उसे लालगंज से रेफर नहीं किया जा रहा है। जिसके बाद देर शाम उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

15 + 8 =

Back to top button