कोख में पल रही बेटी का मां ने किया 80 हजार रुपये में सौदा, जानें वजह

छत्तीसगढ़। रायगढ़ से रिश्ते को शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां एक मां ने कोख में पल रही अपनी बच्ची का ही सौदा कर दिया। बताया जा रहा है कि लोगों के घरों पर काम कर मिलने वाले पैसे से घर का खर्च चलाती थी और अपनी तीन संतानों (दो पुत्र, एक बेटी) का पालन-पोषण करती थी। जबकि चौथी बेटी का दलाल के माध्यम से 80 हजार रुपये में सौदा कर लिया।

‘इस बात’ का खुलासा पड़ोसी से विवाद होने पर हुआ और मामला चक्रधर पुलिस स्टेशन पहुंच गई। पुलिस ने महिला को तलब कर पूछताछ की। अब महिला को ममत्व उमड़ा है। उसने अपनी बच्ची को दिलाने की गुहार लगाई है।

यह महिला आईटीआई कॉलोनी में रहती है। महिला के मुताबिक जब यह बच्ची उसके गर्भ में पल रही थी तभी उसकी मुलाकात जबलपुर की रहने वाली मीता से हुई। मीता को इस महिला की आर्थिक स्थिति की जानकारी हुई तो उसने हमदर्दी जताई। मीता ने कहा जबलपुर में उसके जान-पहचान वाले हैं। वह उसकी बेटी का ठीक-ठाक पालन कर सकते हैं। उसे इसके बदले 80 हजार रुपये मिलेंगे।

महिला ने बेटी को जन्म दिया। मीता वादे के मुताबिक उसे 80 हजार रुपये थमाकर उसकी नवजात बेटी को लेकर चली गई। कुछ दिन पहले महिला का पड़ोसी से किसी से बात को लेकर विवाद हुआ। इस दौरान पड़ोसी ने बच्ची को बेचने का खुलासा कर दिया। इसके बाद तो कॉलोनी में कोहराम मच गया। कॉलोनी के कुछ लोगों ने गुरुवार शाम चक्रधर नगर थाने को सूचना दी।

पुलिस फौरन हरकत में आ गई। उसने महिला को थाने तलब किया। देरशाम महिला अपने परिवार के साथ थाने पहुंची। उसने अपनी बेबसी की कहानी बताई। पुलिस ने उसे शुक्रवार को फिर उसे थाने बुलाया। चक्रधर नगर थाने में पत्रकारों से बातचीत में महिला ने कुबूल किया कि तीन संतानों की परवरिश से परेशान होने के कारण उसने गर्भ में पल रही चौथी बेटी का सौदा किया। उसने अपनी मर्जी से बेटी को 80 हजार रुपये में मीता को बेचा। मगर अब वह उसे वापस चाहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

eighteen − four =

Back to top button