मोदी का विपक्ष पर निशाना, बोले- परिवारवादी लोकतंत्र के दुश्मन, संविधान को कुछ नहीं समझते

नई दिल्ली। भाजपा के 42वें स्थापना दिवस पर पीएम मोदी ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए परोक्ष रूप से कांग्रेस को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि आज देश में दो तरह की राजनीति चल रही है। एक वो जिसमें परिवार की भक्ति की जाती है। वहीं दूसरी वो जिसमें देश भक्ति को जगह दी जाती है। बताते चलें कि हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों में भी पीएम मोदी ने विपक्षी दलों (मुख्य रूप से सपा और कांग्रेस) को निशाने पर लेने के लिए परिवादी शब्द का इस्तेमाल किया था।

खबरों के मुताबिक़ पीएम मोदी ने कहा कि देश में अभी दो तरह की राजनीति चल रही है- एक परिवार भक्ति की और दूसरी है देश भक्ति की। देश में कुछ राजनीतिक दल हैं जो अपने परिवारवालों के लिए काम कर रहे हैं। बीजेपी ने ही परिवारवाद के खिलाफ बोलना शुरू किया और इसे चुनावी मुद्दा बनाया। लोगों को समझ आ गया है कि परिवारवादी सोच सरकारों और लोकतंत्र की दुश्मन हैं और संविधान को कुछ नहीं समझती।

पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश में दशकों तक कुछ राजनीतिक दलों ने वोट बैंक की राजनीति की। कुछ लोगों को ही फायदे करो, ज्यादातर लोगों को तरसा कर रखो। पीएम मोदी ने कहा, ‘हमारी सरकार राष्ट्रीय हितों को सर्वोपरि रखते हुए काम कर रही है। आज देश के पास नीतियाँ भी हैं, नियत भी है। आज देश के पास निर्णयशक्ति भी है, और निश्चयशक्ति भी है। इसलिए आज हम लक्ष्य तय कर रहे हैं, उन्हें पूरा भी कर रहे हैं। आज दुनिया के सामने एक ऐसा भारत है जो बिना किसी डर या दबाव के, अपने हितों के लिए अडिग रहता है। जब पूरी दुनिया दो विरोधी ध्रुवों में बंटी हो, तब भारत को ऐसे देश के रूप में देखा जा रहा है, जो दृढ़ता के साथ मानवता की बात कर सकता है।’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

5 × 4 =

Back to top button