काशी विश्वनाथ मंदिर गेट के सामने बैठकर नमाज पढ़ने लगी महिला, जानें पूरा मामला

वाराणसी। काशी विश्वनाथ मंदिर के गेट पर एक महिला के नामाज पढ़ने से हलचल मच गई। दरअसल, मंदिर के गेट नम्बर चार के समीप शुक्रवार को नमाज पढ़ने की मुद्रा में बैठी महिला मानसिक रूप से बीमार निकली।

खबरों के अनुसार मंदिर के गेट नंबर 4 के सामने एक महिला अचानक बैठकर नमाज पढ़ने लगी। काफी देर तक महिला नमाज पढ़ती रही। पुलिस कर्मियों ने काफी इंतज़ार के बाद जबरन महिला को उठाया। इसके साथ ही पुलिस ने महिला को हिरासत में ले लिया है।

थाना चौक कमिश्नरेट का कहना है कि दोपहर एक बजे काशी विश्वनाथ मंदिर के गेट नंबर 4 के सामने जब पुरुष वर्ग ज्ञानवापी मस्जिद में नमाज पढ़ने के लिए जा रहे थे। इसी दौरान एक महिला सड़क के पटरी पर अपना बैग व जूता निकाल कर नमाज पढ़ने जैसी स्थिति में बैठ गई। लगभग 10 मिनट बाद जब वह सामान्य स्थिति में आई तो उपस्थित महिला उप निरीक्षक एवं महिला आरक्षी के देख रेख में उसका बयान लिया गया।

उन्होंने कहा कि तलाशी लेने पर उसके झोले से मानसिक चिकित्सालय वाराणसी , एसएसपीजी कबीरचौरा , राजकीय महिला चिकित्सालय वाराणसी के मेडिकल रिपोर्ट,अस्पताल की पर्ची, हिंदू देवी देवताओं के फोटो, दवाएं , वोटर आईडी कार्ड व जाति प्रमाण पत्र मिला । महिला का नाम आयशा पत्नी मो. हनीफ है। वह जैतपुरा की निवासी है। छानबीन और पूछताछ में पता चला कि डॉक्टर अजय कुमार सिंह मनोरोग विशेषज्ञ के देख रेख में आयशा का इलाज चल रहा है।

महिला का कहना है कि मेरे पति की पहली पत्नी से 07 बच्चे हैं। पति ने मुझे घर से निकाल दिया है । मैं मानसिक रूप से परेशान रहती हूं , फरीद बाबा मजार जो पंजाब में है ने रात में स्वप्न दिया था तो मैं यहाँ नमाज पढ़ने चली आई। पूछताछ के बाद महिला को इलाज के लिए महिला आरक्षी के देख रेख में एसएपीजी अस्पताल भेज दिया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

15 − nine =

Back to top button