महाराष्ट्र से कानपुर पहुंचा लाउडस्पीकर विवाद, बोले- ‘न हुआ बंद तो बजेगी हनुमान चालीसा’

नई दिल्ली। हाल ही में सामने आए महाराष्ट्र लाउडस्पीकर बवाल के बाद जो अजान के विरोध में हनुमान चालीसा वार शुरू हुआ, अब उसने पूरे देश में रंग दिखाना शुरू कर दिया है। धीरे-धीरे इस जंग की आंच अब महराष्ट्र से होती हुई अलीगढ़ और बनारस से होती हुई अब कानपुर तक पहुंच गई है। ताजा मामला ये हैं कि अब कानपुर की सड़कों पर लोगों ने शनिवार को लाउडस्पीकर लगाकर पूरे विधी-विधान से हनुमान चालीसा का पाठ शुरू कराया।

खबरों के मुताबिक़ हनुमान जयंती पर शनिवार को हिंदूवादी नेता सड़कों पर उतर आए। वानखंडेश्वर चौराहे में बड़ी संख्या में हनुमान भक्तों ने हनुमानजी की फोटो रखी। उसके बाद उन्होंने विधि-विधान से हनुमान चालीसा का पाठ लाउडस्पीकर लगाकर किया। उनका कहना है कि अजान के लिए लाउडस्पीकर बंद होने चाहिए। नहीं तो अजान के समय वह सभी रोज हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे।

हिंदूवादी नेता दिनेश बाजपेई और अभिमन्यु सक्सेना ने कहा है कि अजान के साथ आज से शुरू हुआ हनुमान चालीसा का पाठ अब रोज दिन में दो बार होगा। इसकी संख्या धीरे-धीरे पूरे शहर के सभी चौराहों पर की जाएगी। उन्होंने बताया कि कई चरणों में यह पाठ किया जाएगा। तय योजना के मुताबिक, पहले चरण में उन चौराहों को लिया जाएगा, जहां अजान की आवाज लोगों को लाउडस्पीकर से तेज सुननी पड़ती है। इसके बाद हनुमान चालीसा के पाठ की संख्या का और विस्तार किया जाएगा।

बता दें वनखंडेश्वर मंदिर चौराहे पर हिंदूवादी नेताओ के साथ क्षेत्रीय लोग सुबह 6 बजे अचानक इकट्‌ठा हुए। घंटा-घड़ियाल, शंख, प्रसाद भोग के साथ लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा के पाठ की शुरुआत की। सुबह 6 बजे हनुमान भक्तों से ऐसा करने के पीछे की जब वजह पूछी गई तो उनका तर्क था कि जब सुबह उठते हैं तो उन्हें अजान सुनाई देती है, लेकिन अब वो भी लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा को सुनकर उठना चाहते हैं। पूरे विधि-विधान से किए गए पाठ के दौरान मौजूद लोगों ने एक-दूसरे को चंदन लगाकर मन को शीतल रखने की बात भी कही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

5 × five =

Back to top button