लाउडस्पीकर विवाद : योगी सख्त तो एक्शन में आया प्रशासन, 900 धार्मिक स्थलों को नोटिस जारी

लखनऊ। महाराष्ट्र से शुरू हुई अजान और हनुमान चालीसा जंग मामले में उठे लाउडस्पीकर विवाद के यूपी में पनपने से पहले ही सीएम योगी ने उसे ख़त्म करने के लिए ठोस कदम उठाना शुरू कर दिया है। जहां एक ओर बीते दिन सीएम योगी ने सख्त लहजों में अधिकारियों को इस बात के निर्देश दे दिए थे कि मस्जिदों में लाउडस्पीकर पर अजान की जा सकती है, लेकिन इस बात का खास ध्यान रखना होगा कि अजान की आवाज परिसर से बाहर न जाए। वहीं उन्होंने यह भी साफ किया था कि सड़कों पर किसी भी तरह के धार्मिक रोड शो और रैली बिना प्रशासन की अनुमति के नहीं निकाली जा सकती है।

इसी कड़ी में लाउडस्पीकर की तेज आवाज पर रोक लगाने के निर्देश के अनुपालन में गौतम बौद्ध नगर में पुलिस ने मंगलवार को मंदिरों और मस्जिदों सहित लगभग 900 धार्मिक स्थलों को नोटिस जारी किया।

खबरों के मुताबिक गौतम बुद्ध नगर पुलिस आयुक्तालय ने मंगलवार को धार्मिक स्थलों/विवाह भवनों आदि स्थानों पर बजने वाले लाउडस्पीकर/डीजे के सम्बन्ध में नोटिस देकर यह सुनिश्चित करने को कहा है कि उच्च न्यायालय द्वारा जारी किए गए निर्देशों का अक्षरशः पालन हो।

उन्होंने बताया कि पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के निर्देश पर लाउडस्पीकरों के प्रयोग को लेकर पुलिस अधिकारियों ने मंदिरों, मस्जिदों सहित अन्य पूजा स्थलों के अलावा विवाह भवनों और डीजे संचालकों का भी दौरा किया। संयुक्त पुलिस आयुक्त लव कुमार ने बताया कि उत्तर प्रदेश शासन द्वारा दिये गये निर्देशो के अनुपालन में पुलिस आयुक्तालय गौतम बुद्ध नगर द्वारा धार्मिक स्थल/विवाह भवन/डीजे संचालको आदि को नोटिस देकर माननीय उच्च न्यायालय द्वारा दिये गये निर्देशों का अनुपालन करने के लिए कहा गया है।

उन्होंने बताया कि मंगलवार को अधिकारियों ने 621 मंदिरों में से 602 मंदिरों, 268 मस्जिदों में से 265 मस्जिदों, 16 अन्य धार्मिक स्थलों को नोटिस देने के साथ साथ 217 बारात घरों, 182 डीजे संचालकों में से 175 डीजे संचालकों को नोटिस दिया। उन्होंने कहा कि यदि कोई भी धार्मिक स्थल/डीजे संचालक उच्च न्यायालय द्वारा ध्वनि सम्बन्धी दिये गये निर्देशों का पालन नहीं करता है, तो उनके विरूद्ध कठोर कार्रवाई की जायेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

sixteen − 14 =

Back to top button