करौली हिंसा : 7 अप्रैल तक बढ़ाया गया कर्फ्यू, विशेष सुरक्षा के तहत होंगी 10वीं-12वीं की परीक्षाएं

नई दिल्ली। शनिवार को हिन्दू नववर्ष के मौके पर राजस्थान के करौली में निकाली गए बाइक रैली पर हुए पथराव से जो हिंसा के हालत पैदा हुए, अभी भी राजस्थान उस आग से झुलस रहा है। बताया जा रहा है कि बिगड़े हुए हालातों को देखते हुए प्रशासन ने करौली में लगा कर्फ्यू 7 अप्रैल तक बढ़ा दिया है। वहीं यह भी जानकारी हैं कि कर्फ्यू के दौरान दसवीं और बारहवीं के छात्रों की परीक्षा बिना किसी परेशानी के जारी रहे इस बात के भी विशेष इंतजाम किए गए हैं।

खबरों के मुताबिक़ करौली के जिला कलेक्टर की तरफ से जारी आदेश में कहा गया कि मौजूदा हालात सामान्य नहीं इसलिए कर्फ्यू को 7अप्रैल की मध्यरात्रि तक बढ़ाया गया है। हालांकि लोगों को जरूरी सामानों की खरीददारी के लिए कर्फ्यू में दो घंटे की छूट दी जाएगी।

उधर, हिंसा के मामले में गिरफ्तार 13 लोगों को अदालत में पेश किया गया जहां से उन्हें दो दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया।

वहीं, सोमवार सुबह आवश्यक सामान की खरीदारी के लिये कर्फ्यू में दो घंटे की ढील दी गयी और इस दौरान कहीं से कोई अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। पुलिस ने बताया कि स्थिति शांतिपूर्ण और नियंत्रण में है।

इसके अलावा करौली के जिलाधिकारी राजेन्द्र शेखावत ने बताया, ‘‘सोमवार सुबह पुलिस की मौजूदगी में आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी के लिये दी गई छूट के दौरान शांति रही और कहीं से किसी प्रकार की अप्रिय घटना की जानकारी नहीं मिली है।’’ उन्होंने बताया कि मोबाइल इंटरनेट सेवाएं सोमवार को भी निलंबित रहीं।

गौरतलब है कि शनिवार को नवसंवत्सर के उपलक्ष्य में मुस्लिम बहुल क्षेत्र से निकाली गयी मोटरसाइकिल रैली पर असामाजिक तत्वों द्वारा पथराव के बाद पैदा हुए सांप्रदायिक तनाव के चलते करौली में कर्फ्यू लगाया गया था। उपद्रव की इन घटनाओं में लगभग 35 लोग घायल हो गए थे।

भरतपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक प्रसन्न कुमार खमेसरा ने बताया कि शनिवार को जुलूस के दौरान हुए पथराव के बाद पुलिस ने तत्परतापूर्वक कार्रवाई करते हुए 46 लोगों को गिरफ्तार किया और सात लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

eighteen + 9 =

Back to top button