जहांगीरपुरी : बुल्डोजर पर ब्रेक तो ज़ुबानी जंग शुरू, जानें AAP से लेकर BJP तक किसने क्या कहा?

नई दिल्ली। दिल्ली का जहांगीरपुरी जहां हनुमान जयंती के दिन निकाली गई शोभा यात्रा पर पथराव हुआ। फेंकी गई उन चंद ईंट के टुकड़ों ने मामले को ऐसी हवा दी कि देखते-देखते पूरा दिल्ली और फिर पूरा देश इस हिंसा से पनपी क्रोध अग्नि में झुलसने लगा। ऐसे में सरकारी हंटर चलने में देर न लगी। बीते विधानसभा चुनाव में यूपी से जो ‘बाबा का बुल्डोजर’ चर्चित हुआ। उसने प्रत्येक भाजपा शासित राज्य में अपना परचम लहराना शुरू कर ही दिया था। तो फिर दिल्ली में हुई इस हिंसा के बुल्डोजर के निशाने पर दिल्ली का वह हिंसक क्षेत्र जहांगीरपुरी कैसे न आता!

सुबह तड़के ही जहांगीरपुरी में बुल्डोजरों का जमावड़ा लगना शुरू हो गया। वहीं इस कार्रवाई में कोई खलल न पड़े, इसके लिए सुरक्षा बालों की तैनाती भी की गई। फिर क्या था… गिरने लगे एक-एक बाद एक अवैध निर्माण। मगर, सुप्रीम कोर्ट से आए एक आदेश ने इस कार्रवाई पर ब्रेक लगा दिया। नतीजा ये हुआ कि नगर निगम अधिकारियों को अपने बुल्डोजर पीछे लेने पड़े।

ऐसे में अब अवैध निर्माण ध्वस्त करने की कार्रवाई तो रुक गई, लेकिन इस मामलें में सियासी खीचतान जरूर शुरू हो गई।

जहां एक ओर दिल्ली में हुई इस बुलडोजर कार्रवाई पर आग उगलते हुए आप विधायक अमानतुल्लाह खान ने भाजपा और गृहमंत्री अमित शाह पर दिल्ली के माहौल को बिगाड़ने का आरोप लगाता तो वहीं भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने भी इस पर करार जवाब दिया है।

दरअसल, अमानतुल्लाह खान ने ट्विटर पर लिखा कि “अमित शाह और भाजपा दिल्ली के शांतिपूर्वक माहौल को खराब करना चाहती है। MCD का इस्तेमाल कर अब जहांगीरपुरी में एंक्रोच्मेंट के नाम पर बुलडोजर चलाने और एक खास समुदाय को प्रताड़ित करने का नया फरमान जारी कर दिया गया है। समय रहते लगाम नहीं लगी तो ये घटिया राजनीति देश को ले डूबेगी।”

इसके जवाब में भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने लिखा कि “कल पूरी आम आदमी पार्टी मीडिया में पैसे देकर खबर चलवा रही थी कि ये लोग भाजपा के कार्यकर्ता है। आज बुलडोजर चलने की बात आयी तो केजरीवाल का जिहादी गैंग रोने लगा। चलने दो बुलडोजर… AAP को क्या प्रॉब्लम?”

वहीं भाजयुमों नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने लिखा कि “आपको कैसे पता कि एक खास समुदाय ने ही एनकोरचमेंट कर के रखा हैं? पत्र में तो ऐसा कहीं नहीं लिखा है। ये तो अमानतुल्लाह की दाढ़ी में तिनका वाली बात हो गई।”

इसके अलावा एक समाचार वेबसाइट को दिए गए इंटरव्यू में दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने भारतीय कम्यूनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) यानी माकपा (CPI)(M) नेता वृंदा करात समेत जहांगीपुरी में जारी अतिक्रमण हटाओ अभियान के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने वालों को दंगाइयों का हितैषी बताया है। उन्होंने कहा कि जो निर्दोष लोगों, तिरंगे, भगवा ध्वज और पुलिस पर पथराव करें और गोलियां चलाए, उसे बचाने के पीछे क्या मकसद हो सकता है, यह पूरा देश समझ रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

17 + 14 =

Back to top button