‘लश्कर-ए-तैयबा’ सरगना हाफिज सईद के बेटे तलहा को भारत ने किया आतंकी घोषित

नई दिल्ली आतंकी हाफिज सईद के बाद उसके बेटे हाफिज तलहा सईद के खिलाफ अब गृह मंत्रालय ने बड़ी कार्रवाई करते हुए उसे आतंकवादी घोषित कर दिया है। बताया जा रहा है कि पाकिस्तान में बैठकर तलहा सईद भारत के खिलाफ जहर उगलने का काम करता था। इतना ही नहीं आतंकियों की भर्ती में, फंड इकट्ठा करने में, लश्कर ए तैयबा के जरिए भारत में हमले करवाने में तलहा की सक्रिय भूमिका रहती है। यही वजह है कि शनिवार को गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम 1967 के तहत भारत ने तलहा सईद को आतंकी घोषित किया है।

बता दें, हाफिज सईद ही 2008 में हुए मुंबई में हुए आतंकी हमले का मास्टरमाइंड है। उस हमले में 166 लोगों ने अपनी जान गंवा दी थी। उस हमले के बाद से ही भारत ने हाफिज के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की थी और बाद में अमेरिका ने भी उसे आतंकी घोषित किया था।   

खबरों के मुताबिक़ अब गृह मंत्रालय की तरफ से ये कार्रवाई तब की गई है जब पाकिस्तान में एक अदालत ने हाफिज सईद को 31 साल कैद की सजा सुना दी है। अब पिता जेल में रहने वाला है तो बेटे को भी आतंकी का तमगा दे दिया गया है।

गृह मंत्रालय ने जारी बयान में बताया है कि अफगानिस्तान में भारतीय संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने की प्लानिंग भी उसकी तरफ से लगातार की जाती है।

यहां पर ये जानना जरूरी है कि पिता के समान ही तलहा भी भारत के खिलाफ लगातार जहर उगलता है। वो भी जम्मू-कश्मीर को लेकर लगातार विवादित बयान देता है, वहां पर जेहाद फैलने की बात करता है और हमेशा भड़काने की कवायद में रहता है।

साल 2007 में भी उसका एक वीडियो सामने आया था जहां पर वो कह रहा था कि कश्मीर में हर कीमत पर जेहाद होकर रहेगा। वैसे जिस गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम 1967 के जरिए तलहा को आतंकी घोषित किया गया है, कुछ साल पहले भारत ने उसी अधिनियम से हाफिज सईद को भी आतंकी घोषित किया था। पिछले कई साल भारत हाफिज सईद को भारत लाने की कोशिश कर रहा है। पूरा प्रयास है कि उसकी कस्टडी मिल सके, लेकिन अभी तक वो संभव नहीं हो पाया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

twelve + ten =

Back to top button