लोकसभा में विदेश मंत्री ने बताया कुछ ऐसा, गर्व से फूलकर छाती हो जाएगी ‘56 इंच’

नई दिल्ली। बुधवार को लोकसभा की कार्यवाही के दौरान एक ऐसी बात सामने आयी है, जिससे देश में रहने वाले प्रत्येक नागरिक की छाती फूलकर 56 इंच की हो जाएगी। वहीं इसका सारा श्रेय देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है। दरअसल, आज लोकसभा में विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने यूक्रेन में फंसे भारतीयों को बाहर निकालने का किस्सा सुनाया और बताया कि भारत के इस कदम पर एक अन्य देश के विदेश मंत्री का मुंह खुला का खुला रह गया।

खबरों के मुताबिक़ विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने लोकसभा में कहा कि भारत ने यूक्रेन से लोगों को निकालने के लिए जिस स्तर का अभियान चलाया, उतना बड़ा ऑपरेशन आज तक किसी देश ने नहीं चलाया।

उन्होंने एक दिलचस्प बात बताई कि एक देश के विदेश मंत्री ने उनके सामने यह गर्व से कहा कि उन्होंने दो प्लेन से अपने नागरिकों को यूक्रेन से वापस लाया और जब उनके पूछने पर बताया कि भारत ‘ऑपरेशन गंगा’ के तहत 90 प्लेन से नागरिकों को लाया तो वो हक्का-बक्का रह गए।

विदेश मंत्री ने पूरी बात बताते हुए कहा कि उनकी जिन विदेश मंत्रियों से बात होती है, वो तो कभी-कभी हैरान रह जाते हैं। उन्होंने सदन में कहा, ‘अध्यक्ष महोदय, कुछ ही दिन पहले एक विदेश मंत्री आए। उन्होंने मुझे बहुत गर्व से कहा कि मैं दो प्लेन यूक्रेन से लाया और मुझसे पूछा आपके कितने प्लेन आए। वो हैरान थे, जब मैंने कहा कि 90 प्लेन आए।’

उन्होंने आगे कहा, ‘यह भी है कि बाकी देश हमारा उदाहरण देखते हैं। एक तरह से हम उनको प्रोत्साहित करते हैं। उनको लगता है कि भारत कर रहा है तो हमें भी ऐसा कुछ करना चाहिए।’

जयशंकर ने कहा कि भारत यूक्रेन में फंसे नागरिकों को निकालने के अभियान शुरू करने वाला पहला देश था। उन्होंने कहा, ‘मैं जोर देकर कह सकता हूं कि यूक्रेन से अपने नागरिकों को निकालने के लिए सबसे पहला अभियान भारत ने चलाया।’ उन्होंने दावा किया कि आज तक किसी भी देश ने भारत जितना बड़े पैमाने पर निकासी अभियान नहीं चलाया है। उन्होंने कहा, ‘हमने अपने 20 हजार नागरिक लाए और दूसरे देशों के नागरिकों को निकाला। यह काम किसी भी दूसरे देश ने नहीं किया।’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

fourteen − six =

Back to top button