IB ने दिए संकेत… भारत में तेजी से फैल रहे हिजाब प्रोटेस्ट को ISI दे रही बढ़ावा!

नई दिल्ली। कर्नाटक एक स्कूल से शुरू हुआ हिजाब विवाद आज पूरे देश में पैर पसारता जा रहा है। आलम यह है कि देश में कई जगहों पर मुस्लिन महिलाएं हिजाब पहनकर प्रदर्शन कर रही हैं और इसे अपनी धार्मिक स्वतंत्रा बता रही हैं। इस मामले में कर्नाटक हाईकोर्ट में एक याचिका भी दायर की गई है, जिस पर विचार किया जा रहा है। अब इस मामले में नया एंगल सामने आया है। बताया जा रहा है कि इस पूरे मामले को फैलाने में बड़ी साजिश हो सकती है। वहीं इसके पीछे पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI का हाथ होने की भी खबर है।

खबरों के मुताबिक पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI खालिस्तानी आतंकी संगठन के जरिए भारत में हिजाब रेफरेंडम के जरिए अराजकता फैलाने की साजिश रची जा रही है। इसके लिए भारत में हिजाब रेफरेंडम के लिए वेबसाइट भी बनाई गई है।

एक निजी समाचार चैनल के मुताबिक़ सिख फॉर जस्टिस के चीफ गुरपतवंत सिंह पन्नू ने एक वीडियो जारी किया है। इसमें वो भारत को तोड़ने के लिए हिजाब जनमत संग्रह जैसे एजेंडा को फैलाने की कोशिश कर रहे हैं।

इतना ही नहीं यह भी जानकारी है कि सिख फॉर जस्टिस के चीफ गुरपतवंत सिंह पन्नू से ISI ने वीडियो भी जारी करवाया है। ISI की साजिश के बाद खुफिया एजेंसी भी एक्टिव हो गई हैं। आईबी ने इसे लेकर अलर्ट भी जारी किया है।

बता दें, सिख फॉर जस्टिस ने अपने प्रोपोगेंडा वीडियो में कर्नाटक की हिजाब समर्थन करने वाली लड़की मुस्कान की तस्वीरों का भी इस्तेमाल किया है।

पन्नू ने भारतीय मुस्लिमों से अपील की है कि वे हिजाब रेफरेंडम शुरू करें और भारत को उर्दुस्तान बनाने की तरफ बढ़ें। आईबी ने कहा है कि दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, बिहार और पश्चिम बंगाल जैसे मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में हिजाब रेफरेंडम को बढ़ावा दिया जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button