पीट-पीट कर की हत्या, फिर लाश के साथ सेल्फी ले व्हाट्सऐप पर किया शेयर

नई दिल्ली। वैसे तो हर दिन सुर्ख़ियों में किसी न किसी अपराध और हत्या की खबर देखने को मिल जाती है। मगर, कभी-कभी कुछ ऐसे मामले सामने आते हैं, जो सोचने पर विवश कर देते हैं कि लोग क्या इतने बेख़ौफ़ हो चले हैं कि ये सब उनकी विकृत मानसिकता का नतीजा है। जी हां… ऐसा ही एक मामला शुक्रवार को सामने आया, जो चेन्नई के ओल्ड नप्पलायम क्षेत्र का है। बताया जा रहा है कि किसी मामूली बात पर झड़प को लेकर चार लोगों ने एक युवक को यहां बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया। वहीं हैरत की बात ये हैं कि हत्या को अंजाम देने के बाद ये चारो अपराधी न तो घबराए और नही कहीं भागे, बल्कि उन्होंने लाश के साथ अपनी सेल्फी ली और उसे व्हाट्सऐप पर शेयर कर दिया।

खबरों के मुताबिक़ गुरुवार को पुलिस ने 32 साल के ऑटोरिक्शा चालक रविचंद्रन की हत्या के मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया। पकड़े गए आरोपियों के नाम ए. माधन कुमार, ए. धनुष, के. जयप्रकाश और एस. भरत है। आरोपियों ने जब हत्या के बारे में बताया तो पुलिस भी हैरान रह गई।

बताया जा रहा है कि पहले तो चारों आरोपियों ने रविचंद्रन की पीट-पीट कर हत्या कर दी और फिर उसकी लाश के साथ सेल्फी ली। इतना ही नहीं बेखौफ आरोपियों ने अपने दोस्तों के सामने यह साबित करने के लिए कि उन्होंने रविचंद्रन का काम तमाम कर दिया है, सेल्फी को वॉट्सऐप पर शेयर कर दिया।

वॉट्सऐप पर शेयर किए गए फोटो के आधार पर ही पुलिस ने वारदात में शामिल चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि मृतक रविचंद्रन का कुछ दिन पहले ओल्ड नप्पलायम के रहने वाले माधन और उसके दोस्तों के साथ झगड़ा हुआ था। रविचंद्रन ने यह सोचा भी नहीं था कि यह झगड़ा उसकी मौत की वजह बन जाएगी।

पुलिस ने आगे बताया की बीते बुधवार को माधन ने मृतक को मनाली न्यू टाउन के एक खेल मैदान में शराब पीने के लिए बुलाया और कहा कि हमारे बीच जो भी मतभेद है, उसे आपस में बैठकर सुलझा लेंगे।

मृतक शराब पार्टी में शामिल होने के लिए चला गया। इधर जब घर लौटने में देर हुई तो रविचंद्रन की पत्नी कीर्तना चिंतित हो उठी। उसने अपने पति के मोबाइल फोन पर कॉल किया, मगर फोन स्विच ऑफ था। इसके बाद कीर्तना अपने रिश्तेदारों के साथ रविचंद्रन की तलाश में निकली।

रविचंद्रन को खोजते-खोजते सभी वेत्री नगर स्थित एमआरएफ खेल के मैदान में पहुंचे। वहां पर वह एक कोने में बेसुध पड़ा हुआ था। माधन और उसके तीन अन्य साथी खुद उसके शरीर को दबा रहे थे। चारों कीर्तना और रिश्तेदार को धमकी देते हुए मौके से चले गए। कीर्तना और उसके रिश्तेदार ने रविचंद्रन के पूरे शरीर पर चोटों के निशान पाए। उसके शरीर पर शराब की बोतलों से हमला किया गया था। खबर मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया और हत्या का मामला दर्ज किया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

seventeen − one =

Back to top button