जब सदन में जया ने दे दिया ‘भाजपा’ को श्राप… तो ये आया सरकार का रिएक्शन!

नई दिल्ली। ‘पनामा पेपर लीक’ मामले में फिल्म अभिनेत्री ऐश्वर्या राय को ED द्वारा पूछताछ के लिए तलब किए जाने को लेकर सपा सांसद जय बच्चन खासी नाराज थीं। वहीं सोमवार को सदन की कार्यवाही के दौरान जया की यह नाराजगी तब उबाल खा गई, जब सदन में भाजपा सांसद राकेश सिन्हा ने उनकी बातों को बीच में काटने की कोशिश की। इसके बाद उन्होंने सदन में ही तीखे तेवरों के साथ कहा, “आपके (भाजपा) बुरे दिन जल्द ही आने वाले है। मैं आपको श्राप देती हूं।” जया के इस आवेगपूर्ण व्यवहार पर भाजपा सरकार ने स्टैंड लेते हुए दो टूक में कहा कि जब तक मांफी नहीं मांगी जाती है, निलंबन नहीं हटाया जाएगा।

बता दें, राज्यसभा में विपक्ष ने सोमवार को 12 सांसदों का निलंबन वापस लेने और केंद्रीय गृह मंत्री अजय मिश्रा के इस्तीफे की मांग की थी। विपक्ष की इस मांग पर सदन में भारी हंगामा हुआ। आलम यह हो चला कि सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों आक्रामक रूप में दिखे।

खबरों के मुताबिक़ राज्यसभा में सोमवार को नारकोटिक ड्रग्स और साइकोट्रॉपिक पदार्थ (संशोधन) विधेयक 2021 पर चर्चा हुई। इस चर्चा के दौरान सपा सांसद जया बच्चन ने अपना आपा खो दिया और गुस्से में आकर भाजपा को श्राप दे दिया।

गुस्से में बोलते-बोलते जया बच्चन सदन में ही हाफने लगी। उनकी सांस फूलने लगी और फिर वो कुछ देर के लिए रुक गई। थोड़ा रुकने के बाद उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि, आप हमे बोलने तो देते नहीं है, इससे अच्छा है कि आप (भाजपा) हमारा गला ही घोंट दीजिए।

इसी दौरान जाया ने अपनी बातों को आगे बढ़ाते हुए कहा कि इसके अलावा आप एक काम करिए आप ही (भाजपा सांसद) अकेले सदन चला लीजिए। फिर थोड़ा रुककर उन्होंने कहा, “आपके (भाजपा) बुरे दिन जल्द ही आने वाले है। मैं आपको श्राप देती हूं।”

दरअसल, राज्यसभा में जब नारकोटिक ड्रग्स और साइकोट्रॉपिक पदार्थ (संशोधन) विधेयक 2021 पर चर्चा हो रही थी और इस जया बच्चन को बुलाया गया। तो सपा सांसद ने आते ही स्पीकर को कहा, “आज मैं आपको धन्यवाद नहीं देना चाहती। क्योंकि ये बात समझ नहीं आती कि,आप इस तरफ से चिल्लाकर वेल में जाते थे, उस वक्त को याद करूं या फिर आज आप जो कुर्सी पर बैठे हैं उस वक्त को याद करूं।”

माना जा रहा है कि उक्त बातें जया ने हाल ही में निलंबित किए गए 12 सांसदों के निलंबन को वापस लेने संबंधी अपने पक्ष को रखने के उद्देश्य से बोली थीं।  

दरअसल, हाल ही में एक विधेयक पर चर्चा के दौरान सदन में भगदड़ मच गई थी। ऐसे में  सुरक्षा गार्डों और सांसदों के बीच कहासुनी हो गई। इस कहासुनी और हाथापाई के मामले में राज्यसभा के 12 सांसदों को निलंबित कर दिया गया है।

वहीं जया की बातों को सुनकर भाजपा सांसद राकेश सिन्हा भी नाराज हो गए और उन्होंने जया पर संसद की गरिमा को कम करने और स्पीकर महोदय को व्यक्तिगत तौर पर संबोधित करने का आरोप लगाया। राकेश सिन्हा ने कहा सदन में ऐसा व्यवहार ठीक नहीं है। कोई भी चेयर का इस तरह से अपमान नहीं कर सकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

7 − 4 =

Back to top button