गाजियाबाद-नोएडा में फर्जी मतदान का मामला, 12 संदिग्ध पुलिस हिरासत में

लखनऊ। लंबे इंतजार के बाद आज यानी गुरुवार को पहले चरण का मतदान प्रारंभ हो चुका है। इसके तहत यूपी के 11 जिलों में 58 सीटों के लिए सुबह से ही लोग वोट डालने के लिए अपने-अपने मतदान केन्द्रों पर पहुंच चुके हैं। कड़ाके की ठंड में मतदाओं में भारी उत्साह देखने को मिल रहा है। इसी बीच नोएडा और गाजियाबाद के दो मतदान केन्द्रों पर फर्जी मतदान डालने का मामला भी सामने आया है। यह मामला नोएडा के खोड़ा नगर पालिका के आरके स्कूल मतदान स्थल और गाजियाबाद के सेठ मुकंद लाल पोलिंग बूथ का बताया जा रहा है।

खबरों के मुताबिक़ गाजियाबाद के सेठ मुकंद लाल पोलिंग बूथ पर वोट डालने पहुंची 71 वर्षीय नसीमा का पहले से ही पोस्टल बैलेट के जरिए वोट डाला जा चुका है, जिसको लेकर उन्होंने शिकायत दर्ज कराई है। उनका कहना है कि उनके नाम से फर्जी तरीके से पोस्टल बैलेट डाला गया है।

वहीं नगर पालिका की अध्यक्ष रीना भाटी ने सपा प्रत्याशी अमरपाल शर्मा पर फर्जी वोटिंग कराने का गंभीर आरोप लगाया। इसके बाद खोड़ा नगर पालिका के आरके स्कूल मतदान स्थल के पास गोल्डन पैलेस से करीब 12 संदिग्ध लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है।

बता दें, उत्तर प्रदेश में पहले चरण का मतदान शुरू हो चुका है। पहले चरण में 11 जिलों की 58 सीटों पर लोग वोट डाल जा रहे हैं। गाजियाबाद की 5 सीटों (लोनी, मुरादनगर, साहिबाबाद, गाजियाबाद और मोदीनगर) और नोएडा की 3 सीटों (नोएडा, दादरी और जेवर) पर लोग सुबह से ही लाइन में लगकर वोट डाल रहे हैं।

गाजियाबाद सीट पर योगी सरकार में मंत्री अतुल गर्ग की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है, जबकि नोएडा में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) प्रत्याशी पंकज सिंह मैदान में हैं। इसके अलावा जेवर में बीजेपी के धीरेंद्र सिंह और समाजवादी पार्टी-राष्ट्रीय लोकदल (सपा-आरएलडी) गठबंधन के अवतार सिंह भड़ाना में कड़ी टक्कर देखने को मिल रही है।

केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने गाजियाबाद के राजनगर इलाके में शिलर इंस्टीट्यूट  में अपना वोट दिया और मीडिया से बात की। उन्होंने कहा कि सुशासन के मुद्दे पर सरकार चुनी जा रही है। समाजवादी पार्टी-राष्ट्रीय लोकदल (सपा-आरएलडी) गठबंधन पर निशाना साधते हुए वीके सिंह ने कहा कि गठबंधन के अंदर दरार है। गौतमबुद्ध नगर के डीएम सुहास एलवाई ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। जिलाधिकारी सुहास एल वाई का सभी मतदाताओं से आह्वान है कि लोकतंत्र के महाउत्सव में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

seventeen − eleven =

Back to top button