मुख्तार के बेटों पर ED की पैनी नजर, जल्द ही हो सकती है पूछताछ

लखनऊ। मुख्तार अंसारी के बाद अब प्रवर्तन निदेशालय (ED) की पैनी नजर अब उनके बेटों पर है। वजह यह है कि मुख्तार की पत्नी आफसा और साले अतीक राजा व अनवर के नाम से एक कंस्ट्रक्शन कंपनी रजिस्टर है। वहीं आरोप है कि इस कंपनी के नाम पर मऊ और गाजीपुर में नियमों के खिलाफ जाकर काम किए जा रहे हैं। यही वजह है कि प्रवर्तन निदेशालय मुख्तार के दोनों बेटों अब्बास और उमर अंसारी के खिलाफ नोटिस जारी करने की तैयारी में है। इतना ही नहीं जानकारी यह भी है कि ईडी मुख्तार के दोनों बेटों को बुलाकर उनके बैंक खातों, ट्रांजेक्शन, संपत्तियों का ब्यौरा और आय के स्रोत के बारे में पूछताछ करेगी। बता दें, इस समय मुख्तार अंसारी बांदा जेल में बंद हैं।

खबरों के मुताबिक़ आरोप है कि विकास कंस्ट्रक्शन कंपनी स्वरा मऊ में ग्राम पंचायत की ज़मीन पर कोल्ड स्टोर बनवाया गया है। इस कोल्ड स्टोर को एफसीआई को किराये पर दिया गया है, जिसके जरिए भारत सरकार को करोड़ों का चूना लगाया गया है। इस मामले में पुलिस ने बीते साल एफआईआर दर्ज की थी। इसी केस के आधार पर ईडी ने बीते साल मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया था। 

ईडी की जांच में पता चला था कि विकास कंस्ट्रक्शन के नाम पर आने वाली कुछ रकम अब्बास और उमर के बैंक खातों में ट्रांसफर हुई थी। दोनों भाइयों के पास मऊ और गाजीपुर में चल-अचल संपत्ति हैं। अब्बास और उमर से पूछताछ के बाद उनके सहयोगियों और कंपनी के लोगों से भी पूछताछ होगी। उधर माफिया मुख्तार अंसारी की लखनऊ के सत्र न्यायालय में पेशी की खबर जेल से लीक होने की भी जांच होगी। डीआईजी जेल प्रयागराज संजीव त्रिपाठी को यह जांच सौंपी गई है। 7 दिनों के अंदर जांच पूरी कर रिपोर्ट डीआईजी जेल संजीव त्रिपाठी सौपेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

10 − 2 =

Back to top button