दिल्लीः जहांगीरपुरी हिंसा मामले में सामने आई आरोपी की तस्वीर, 13 गिरफ्तार

नई दिल्ली। दिल्ली के जहांगीरपुरी हिंसा में पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है। इस मामले में अब तक 13 आरोपितों को गिरफ्तार किया जा चुका है। इसके अलावा आरोपी अंसार की तस्वीर भी सामने आ गई है। जानकारी के अनुसार, अंसार ने ही सबसे पहले शोभायात्रा को रोककर बहस शुरू की थी और इसके बाद शांति से निकल रही शोभायात्रा पर पथराव शुरू हो गया था।

बता दें, दिल्ली के जहांगीर पुरी हिंसा मामले में जिस शख्स पर आरोप लग रहे हैं उसका नाम अंसार है। हिंसा का आरोपी अंसार जहांगीर पुरी के C ब्लॉक में रहता है। FIR में भी इसी अंसार का नाम है। ये C ब्लॉक का मुस्लिम नेता है। अंसार, 2020 CAA/ NRC के दौरान होने वाले जहांगीर पुरी के प्रोटेस्ट साइट पर बहुत एक्टिव रहता था। अभी अंसार पुलिस के पास है जिससे पुलिस पूछताछ कर रही है। उधर, जहांगीरपुरी हिंसा के आरोपी अंसार की पत्नी का दावा किया है कि उसका पति बेकसूर है।

डीसीपी उषा रंगनानी का कहना है कि हिंसा में आठ पुलिसकर्मी और एक नागरिक सहित 9 लोग घायल हुए हैं, जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। घायल में एक सब-इंस्पेक्टर को गोली लगी, उनकी हालत स्थिर है। वहीं, पुलिस ने दंगा फसाद, सरकारी आदेश का उल्लंघन, मारपीट किए जाने, हत्या की कोशिश, साजिश आदि के तहत मामला दर्ज किया है।

पुलिस ने पथराव की शुरुआत करने वाले आरोपित समेत अब तक 13 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस की कुल 10 टीमें जांच में जुटी हैं और 15 को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है।

गौरतलब है कि बीती शाम हनुमान जन्मोत्सव शोभायात्रा के दौरान दो गुटों में झड़प हो गई। इसी दौरान शोभायात्रा पर कुछ उपद्रवी तत्वों ने पथराव शुरू कर दिया, इससे भगदड़ मच गई। देखते ही देखते हंगामे ने बड़ा रूप ले लिया। हिंसा में आठ पुलिस कर्मी सहित नौ लोग घायल हुए हैं। जिनका इलाज चल रहा है। इलाके में तनाव को देखते हुए भारी पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया।

जहांगीरपुरी में उपद्रव के बाद कई कंपनी फोर्स तैनात कर दी गई है। फिलहाल हालात नियंत्रण में हैं लेकिन तनाव बरकरार है। इसे लेकर किसी भी तरह के टकराव की आशंका को देखते हुए एहतियात के तौर पर जेएनयू में भी सुरक्षा बढ़ाई है। इसके साथ ही राजनीति भी शुरू हो गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

11 − eight =

Back to top button