16 मार्च से 12 से 14 साल के बच्चों का कोरोना वैक्सीनेशन, बुजुर्गों के लिए प्रिकॉशन डोज

नई दिल्ली। यूपी चुनावों से पहले तक एक बार फिर देश में कोरोना खर बढ़ चला था, लेकिन गनीमत रही कि इसकी चपेट में आए अधिक से अधिक लोग रिकवर हो गए। वजह यह रही कि कोरोना अब लोगों के लिए नया नहीं रह गया था, साथ ही इस संक्रमण में क्या प्राथमिक इलाज चाहिए होते हैं और इससे बचने के उपाय क्या है? आज तकरीबन देश का हर नागरिक जानता है। ऐसे में कोरोना से सुरक्षा की दिशा में देश ने एक और कदम आगे बढ़ाते हुए अब 12 से 14 साल के बच्चों का टीकाकरण करने का फैसला ले लिया है।

बताया जा रहा है कि 16 मार्च से 12 से 14 साल के बच्चों के लिए वैक्सीनेशन प्रोग्राम शुरू हो जाएगा। इससे पहले चरण में 15 से 18 साल के बच्चों का वैक्सीनेशन हो रहा है। बता दें, भारत में 3 जनवरी से बच्चों का वैक्सीनेशन शुरू हुआ था।

खबरों के मुताबिक़ 16 मार्च से 12-14 साल के बच्चों का वैक्सीनेशन शुरू होने जा रहा है। 12-14 साल के बच्चों को Corbevax वैक्सीन लगाई जाएगी। Corbevax को Biological E Limited कंपनी ने बनाया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने यह जानकारी दी। इसके साथ ही 60 साल से ऊपर के सभी लोग अब बूस्टर डोज लगवा सकेंगे। अभी तक भारत में हेल्थ केयर वर्कर्स, फ्रंट लाइन वर्कर्स और 60+ जिन्हें कोई comorbidity हैं, उनको ही वैक्सीन की बूस्टर डोज लगाई जा रही थी।

ध्यान रहे, भारत में कोरोना के पिछले 24 घंटे में 2,503 मामले सामने आए हैं। वहीं, 4,377 लोग ठीक हुए हैं। जबकि 27 लोगों की कोरोना से मौत हुई है। देश में एक्टिव केस 36,168 रह गए हैं। यह 675 दिन में सबसे कम हैं। वहीं, 680 दिन में कोरोना के केस भी सबसे कम मिले हैं। देश में अब तक 180 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन की डोज लग चुकी हैं।

वहीं इस मामले में केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया ने ट्वीट किया, बच्चे सुरक्षित तो देश सुरक्षित। उन्होंने आगे लिखा कि मुझे बताते हुए खुशी है कि 16 मार्च से 12 से 14 साल के बच्चों का कोविड टीकाकरण शुरू हो रहा है। साथ ही 60 से अधिक उम्र के सभी लोग अब प्रिकॉशन डोज लगवा पाएंगे। उन्होंने बच्चों और बुजुर्गों से कोरोना वैक्सीन लगवाने की भी अपील की।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

16 − 1 =

Back to top button