ब्रैंडेनबर्ग गेट पर लहराते भगवे पर कांग्रेसियों ने कसा तंज तो यूजर्स ने दिए ऐसे कमेंट्स!

नई दिल्ली। तीन दिवसीय जर्मनी दौरे पर बर्लिन पहुंचे पीएम मोदी का वहां मौजूद प्रवासियों के द्वारा जोरदार स्वागत किया गया। इस दौरान पीएम मोदी के आगमन की खुशी पर लोगों ने जर्मनी के ब्रैंडेनबर्ग गेट के बाहर भगवा झंडा भी लहराया। इस पल का कैमरे में कैद किया गया वीडियो पीएमओ इंडिया के ट्विटर हैंडल से शेयर किया गया। वहीं जैसी ही जर्मनी का यह वीडियो सामने आया कांग्रेसी दल भाजपा और पीएम मोदी पर हमलावर हो गया और इस बात का सवाल किया जाने लगा कि वहां तिरंगे की जगह भगवा क्यों फहराया गया। इतना ही नहीं यह भी तंज किया गया कि क्या अब मोदी जी के लिए राष्ट्र से बड़ा धर्म हो चला है।

खबरों के मुताबिक़ पीएम मोदी के बर्लिन वाले वीडियो पर कांग्रेस नेता सलमान प्रतापगढ़ी ने कमेंट कर सवाल किया कि भारत देश का झंडा तिरंगा कहां है? कांग्रेस प्रवक्ता रागिनी नायक ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए लिखा, ‘ये भारत का राष्ट्रीय ध्वज तो नहीं है मोदी जी।’

वहीं कांग्रेस नेत्री पंखुड़ी पाठक लिखती हैं – पीएम मोदी को बताना चाहिए कि भारतीय तिरंगा ऐसा होता है। इसके साथ उन्होंने तिरंगे की इमोजी डाली।

इसके अलावा कुछ आम यूजर्स ने भी इस वीडियो पर चल रही वार में सहभागिता निभाते कमेन्ट कि। हुए रेशमा शाहिद नाम की एक यूजर सवाल करती हैं कि फ्लेवर ऑफ़ इंडिया? बिना भारतीय तिरंगे के? केवल भगवा रंग से सेलिब्रेशन किया जा रहा है।

राखी त्रिपाठी नाम के एक टि्वटर हैंडल से कमेंट किया गया, ‘ हमारे भारतीय झंडा कहां है? आरएसएस वाले लोगों के झंडे की हमें जरूरत नहीं है। भारत की पहचान केवल तिरंगा है।’ सूरज त्रिपाठी नाम के एक यूजर द्वारा लिखा गया कि अभी यह लोग अपना तिरंगा भी बदलने पर लगे हुए हैं।

नवीन कुमार लिखते हैं, ‘ प्रधानमंत्री के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इस तरह की पोस्ट की जाती है, देश का प्रतिनिधित्व भगवा वाले कर रहे हैं। अब क्या ही कहा जाए?’

अनिरुद्ध सिंह नाम के एक युवक द्वारा लिखा गया, ‘ भारतीय ध्वज तिरंगा की जगह भगवा लहराया जा रहा है और प्रधानमंत्री इस पर गर्व की अनुभूति कर रहे हैं। नरेंद्र मोदी राष्ट्र से बड़ा धर्म हो गया?’

अभय लाल नाम के एक यूजर ने कमेंट किया कि मैं एक भारतीय हूं लेकिन मैं यह कह सकता हूं कि यह मेरा फ्लेवर नहीं है। सुरेंद्र प्रताप पूछते हैं कि यह किस देश क का झंडा है। दिनेश अग्रवाल नाम के एक यूजर द्वारा लिखा गया कि राष्ट्रीय ध्वज में हरा रंग कांग्रेसियों की देन है। यदि सरदार पटेल या बोस प्रधानमंत्री बने होते तो हमारे राष्ट्रीय ध्वज में केवल भगवा ही रहता। श्वेता नाम के टि्वटर हैंडल से लिखा गया कि यह देखकर कांग्रेस वालों को इतनी दिक्कत क्यों हो रही है। महाराष्ट्र में भगवा ध्वज तो खूब लहराया जाता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

one × three =

Back to top button