जोधपुर में ईद की नमाज के बाद झड़प, इंटरनेट सेवाएं बंद, जानें वजह

देश में हिंसा की घटनाएं थमने का नाम ही नही ले रही हैं। खरगोन, जहांगीरपुरी फिर पटियाला हिंसा के बाद जोधपुर में हिंसा का मामला सामने आया। जहां सोमवार की रात ईद और अक्षय तृतीया त्योहार से ठीक पहले दो समुदायों के बीच हिंसक झड़पें देखी गई।

झड़प की सूचना सबसे पहले जालोरी गेट चौराहे पर तब मिली जब एक समुदाय के कुछ बदमाशों ने ईद से पहले बालमुकंद बिस्सा सर्कल में इस्लामिक झंडा फहराया और भगवा झंडा हटा दिया। इसका बाद दूसरे समुदाय के लोगों ने विरोध किया। देखते ही देखते दोनों समुदायों के बीच बहस हिंसक हो गई। पथराव की भी सूचना मिली और पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज किया।

पुलिस ने 4 मीडियाकर्मियों को पीटा

कथित तौर पर, घटना को कवर करने वाले मीडियाकर्मी भी पुलिस के गुस्से का शिकार हो गए। पुलिसकर्मियों ने 4 मीडियाकर्मियों को पीटा। फिलहाल पूरे शहर में माहौल तनावपूर्ण बना हुआ है। पुलिस ने त्योहारों को सांप्रदायिक सौहार्द के साथ मनाने की अपील की है।

इंटरनेट सेवाएं बंद

हिंसक झड़पों को देखते हुए जिला प्रशासन ने एहतियात के तौर पर इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी हैं। जोधपुर संभागीय आयुक्त हिमांशु गुप्ता की ओर से जारी आदेश में पूरे जोधपुर जिले में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

2 × one =

Back to top button