लखनऊ में बनेगी ब्रह्मोस मिसाइल, राजनाथ सिंह ने किया ‘निर्माण केंद्र’ का शिलान्यास

लखनऊ में तैयार होगा ये परमाणु हथियार, नाम सुनते ही कांप जाते हैं बड़े-बड़े देश

लखनऊ। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को रक्षा प्रौद्योगिकी एवं परीक्षण केंद्र और ब्रह्मोस विनिर्माण केन्द्र (डीआरडीओ) का शिलान्यास किया। ब्रह्मोस यूनिट के लिए प्रदेश सरकार ने सिर्फ एक रुपये की लीज पर 80 हेक्टेयर से अधिक भूमि उपलब्ध कराई है। अमौसी एयरपोर्ट के ठीक बगल में डीआरडीओ लैब में रक्षा अनुसंधान और विकास के कार्य होंगे

लखनऊ में अब ब्रह्मोस मिसाइल के नेक्स्ट जनरेशन का निर्माण किया जाएगा। दुश्मनों के छक्के छुड़ा देने वाली ब्रह्मोस मिसाइल निर्माण के संबंध में भारत और रूस के बीच समझौता है। इस मौके पर डीआरडीओ की प्रदर्शनी का उद्घाटन भी किया गया।

वहीं रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि यह केंद्र सुरक्षा के मामले में देश को आगे ले जाएगा, साथ ही रक्षा उत्पादों में अग्रणी भी बनाएगा। उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था को भी इससे मजबूती मिलेगी। उन्होंने कहा कि हम मिसाइल इसलिए नहीं बना रहे हैं कि दुनिया के किसी देश पर हमला करना है। भारत का इतिहास रहा है कि हमने किसी पर आक्रमण नहीं किया है। न ही किसी देश की एक इंच जमीन पर कब्जा किया। हम अपनी ताकत बढ़ाने के लिए ब्रह्मोस बनाने जा रहे हैं। अगर हमारी तरफ कोई बुरी नजर उठाकर देखेगा तो मजबूती से जवाब देंगे।

रक्षा मंत्री ने पाकिस्तान का नाम लिए बगैर कहा कि हमने अपने पड़ोसी मुल्क को पहले चेताया। वह नहीं सुधरा तो सर्जिकल स्ट्राइक किया। भारत अपनी सीमाओं में ही नहीं बल्कि दुश्मन देशों के घर में भी घुसकर सबक सिखाने की ताकत रखता है।

राजनाथ सिंह ने इस दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री आदित्यनाथ की जमकर सराहना की। उन्होंने कहा कि योगी जी माफिया के प्रति कोई छूट नहीं देते। कभी यहां बुल्डोजर तो कभी कहीं बुल्डोजर चलाते हैं। आज के उत्तर प्रदेश में अपराधियों की बल्ले-बल्ले नहीं है। बुल्डोजर वालों की बल्ले-बल्ले है।

भारत माता के जयकारे के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि लखनऊ में आज का यह कार्यक्रम बहुत महत्वपूर्ण है। रक्षा मंत्री स्वयं ब्रह्मोस की नेक्स्ट जेनरेशन के निर्माण के लिए अपनी कर्मभूमि लखनऊ पधारे हैं। योगी ने कहा कि भारत दुनिया की मानवता एवं कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि हम देश की सुरक्षा को खतरे में डाल देंगे। हम अपनी सीमाओं और देश के नागरिकों की सुरक्षा में सक्षम हैं। नया भारत छेड़ता नहीं है और अगर कोई छेड़ता है तो छोड़ता भी नहीं है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह आत्मनिर्भर भारत के क्रम में भी बड़ा कदम है। अब लखनऊ यही नहीं कहा करेगा कि मुस्कराइए कि आप लखनऊ में हैं। अब लखनऊ दुश्मन देशों के लिए दहाड़ा भी करेगा। ब्रह्मोस मिसाइल का प्रोडक्शन यहां से होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button