‘द कश्मीर फाइल्स’ देख लौट रहे भाजपा सांसद पर फेंका गया बम, बोले- बंगाल में लगे राष्ट्रपति शासन

नई दिल्ली। जहां एक ओर देश में ‘द कश्मीर फाइल्स’ की व्यूवरशिप तेजी से बढ़ रही है, वहीं दूसरी ओर इस फिल्म को लेकर विवाद भी बढ़ता दिखाई दे रहा है। फिलहाल अभी तक यह विवाद केवल ज़ुबानी दिखाई दे रहा था, लेकिन पश्चिम बंगाल में भाजपा सांसद पर हुए हमले के बाद इस मामले के और भी अधिक संजीदा होने के आसार दिखने लगे हैं।

दरअसल, भाजपा सांसद जगन्नाथ सरकार जब बहुचर्चित फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ देखकर वापस लौट रहे थे तभी उनकी गाड़ी पर किसी ने बम से हमला किया। गनीमत रही कि भाजपा सासंद को कुछ नहीं हुआ।

इस घटना के बाद भाजपा सांसद ने इस मामले का आरोप TMC कार्यकर्ताओं पर लगाया है। उनका कहना है कि जब वो The Kashmir Files देखकर वापिस घर लौट रहे थे तभी उनकी गाड़ी पर TMC के गुंडों ने बम से हमला किया।

उन्होने कहा है कि गनीमत ये रही कि बम गाड़ी के पिछले हिस्से पर जाकर गिरा और उनकी जान बाल-बाल बच गई।

सांसद जगन्नाथ ने ये भी आरोप लगाया है कि जब इस घटना की जानकारी पुलिस को दी गई तो वो भी देरी से पहुंची। फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले में जांच मे जुट गई है। ये पूरी घटना पश्चिम बंगाल के नदिया जिले की है।

वहीं दूसरी ओर बीजेपी ने टीएमसी सरकार पर आरोप लगाया है कि इस फिल्म को चलने में सरकार के द्वारा लगातार रुकावट डाली जा रही है। फिल्म प्रदेश में नही चल सके इसके लिए तमाम हथकंडे अपनाए जा रहे है। बीजेपी ने आरोप लगाया है कि फिल्म सिनेमाघरों मालिकों पर भी सरकार के द्वारा दबाव बनाया जा रहा है कि वो ना दिखाई जाएं। पार्टी का आरोप है बंगाल में इस वक्त ‘द कश्मीर फाइल्स’ राजनीतिक साजिश का शिकार हो गई है और टीएमसी के नेता और कार्यकर्ता इसमे पूरी तरह से मिले हुए है।

दूसरी ओर इस घटना के बाद सांसद जगन्नाथ सरकार ने मांग की है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह धवस्त हो चुकी है। प्रदेश में जब एक सांसद के ऊपर इस तरह से हमले हो रहे हैं तो आम आदमी क्या सुरक्षित होगा? उन्होने आगे कहा कि बंगाल में कोई भी सुरक्षित नहीं है। यहां लोकतंत्र की हत्या हो रही है। राज्य में स्थिति पर काबू पाने के लिए अनुच्छेद 356 यानि राष्ट्रपति शासन लागू होना चाहिए अगर ऐसा नही हुआ तो इस तरह की घटनाएं रुकने वाली नही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

nineteen − six =

Back to top button