कूड़े की गाड़ी में मिले पोस्टल बैलेट मामले में बड़ा एक्शन, हटाई गई बहेड़ी की एसडीएम

नई दिल्ली। कूड़े की गाड़ी में भरकर लाए गए पोस्टल बैलेट मामले में सपा के हंगामें के बाद प्रशासन ने बड़ा एक्शन लिया है। बताया जा रहा है कि प्रशासन ने बहेड़ी की एसडीएम पारूल तरार को हटा दिया है और उनकी जगह अब राजेंद्र चंद्र को स्थान दिया गया है। बता दें, पारूल तरार एसडीएम होने के साथ-साथ रिटर्निंग ऑफिसर भी थीं। प्रशासन ने सपा के हंगामे को बढ़ता देख उन्हें दोनों ही पदों से हटा दिया है।

खबरों के मुताबिक़ मंगलवार को बहेड़ी में कूड़ा गाड़ी में पोस्टल बैलेट पेपर से भरे तीन संदूकें समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पकड़े थे। नगर पालिका की कूड़े की गाड़ी में बैलेट पेपर भरकर आए थे। इसके बाद से समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं का हंगामा जारी था।

बुधवार को भी मामला शांत न होते देख प्रशासन ने पारूल तरार को हटा दिया। अब उनकी जगह राजेंद्र चंद्र को जिम्मेदारी दी गई है।

इस मामले में डीएम शिवकांत द्विवेदी ने कहा था कि आरओ की गलती थी और उन्होंने चुनाव से जुड़ी सामग्री कूड़े की गाड़ी में भेज दी थी।

वहीं, बहेड़ी से सपा के उम्मीदवार अताउर रहमान ने आरोप लगाया था कि काउंटिंग सेंटर में गाड़ियां अंदर जा रही हैं, जिनका कोई लेखा-जोखा नहीं है।

इससे पहले वाराणसी में भी EVM से लदी तीन गाड़ियां जाने के बाद सपा कार्यकर्ताओं ने हंगामा किया था। अखिलेश यादव ने आरोप लगाया था कि वाराणसी में EVM से लदी तीन गाड़ियां पकड़ी गई हैं, दो गाड़ियां निकल गईं, लेकिन तीसरी को सपा के कार्यकर्ताओं ने रोक लिया। इसके बाद सपा ने काउंटिंग सेंटर में जैमर लगाने की मांग भी की है।

वहीं, चुनाव आयोग ने जवाब देते हुए कहा कि गाड़ियों से जो EVM मिली हैं, वो ट्रेनिंग के मकसद से ले जाई जा रही थीं और उनका चुनाव में इस्तेमाल नहीं हुआ है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

eleven − two =

Back to top button