सेना के ‘बाहुबली’ विमान को मिला यूक्रेन में फंसे भारतीयों को वापस लाने का जिम्मा, भरी उड़ान

नई दिल्ली। रूस-यूक्रेन के बीच छिड़ी जंग से भारत भी अछूता नहीं रह गया है। बीते दिन यानी मंगलवार को रूसी गोलीबारी में कर्नाटक निवासी भारतीय छात्र की यूक्रेन में मौत होने की खबर सामने आने के बाद ही भारत सरकार अधिक सक्रीय हो गई है। इस संबंध में पीएम मोदी ने एक हाई लेवल मीटिंग भी की थी, जिसमें भारतीय छात्रों को सुरक्षित यूक्रेन से बाहर कैसे निकाला जाए इस विषय पर बातचीत की गई। इस बातचीत के बाद ऑपरेशन गंगा में अब एयरफोर्स के C-17 ग्लोबमास्टर विमान को शामिल किया गया है, जो एक बार में अधिक से अधिक भारतीयों को वतन वापस ला सकता है।

खबरों के मुताबिक़ ऑपरेशन गंगा के तहत भारतीयों को यूक्रेन से लाने के लिए एयरफोर्स के C-17 ग्लोबमास्टर को काम पर लगा दिया गया है।

बता दें, इस प्लेन को मुख्य रूप से सेना के लिए सामान लाने और ले जाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। मगर, आपदा की स्थिति में इस विमानों को एक बार में अधिक लोगों को इधर से उधर ले जाने के लिए भी किया जाता है।

वजह यह है कि इस विमान में एक बार में करीब 500 से 700 लोगों को ले जाया जा सकता है। वहीं अभी तक इस काम में लगे एयर इंडिया के विमान में एक बार में केवल 250 लोगों को लाने की ही क्षमता है।

ऐसे में यह माना जा रहा है कि मुमकिन है, जल्द ही यूक्रेन में फंसे सभी भारतीयों को सुरक्षित वतन वापस लाया जा सकेंगा।     हालांकि, इन सब चीजों के बावजूद बीते दिन आई भारतीय छात्र की मौत की खबर के बाद से उन सभी भारतीय छात्रों के अभिवावकों की बेचैनी बढ़ गई है, जो अभी भी यूक्रेन में फंसे हुए हैं और वतन वापसी का इंतजार कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

13 + five =

Back to top button