यूक्रेन-रूस जंग में एक और भारतीय की मौत, लोग कर रहे जल्द से जल्द वतन वापसी की अपील

लखनऊ। एक जख्म भरा न था कि बुधवार को रूस-यूक्रेन में ठनी जंग ने भारत को एक और बड़ा घाव दे दिया है। खबर मिली है कि कर्नाटक के नवीन की मौत के बाद पंजाब के रहने एक अन्य छात्र की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि बेटे दिन हुई घटना में यह छात्र भी नवीन के साथ ही घायल हुआ था। जिसका इलाज किया जा रहा था, लेकिन दुःख की बात है कि वह बच नहीं सका और उसकी आज मौत की खबर सामने आई।  

इन घटनाओं को देखते हुए देश में भी लोग भारत सरकार से फंसे भारतीयों को जल्द से जल्द वतन लाने की अपील कर रहे हैं। इसी कड़ी में लखनऊ के हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर प्रिंट मीडिया जनरलिस्ट एसोसिएशन ने भी अपनी आवाज बुलंद की। साथ ही राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री से इस बचाव कार्य में अधिक गति लाने की अपील की। इस मौके पर प्रिंट मीडिया के साथ ही सोशल मीडिया से जुड़े कई दिग्गज पत्रकार शामिल हुए।

हालांकि, भारत सरकार ने इस मामले में पहले ही तेजी से कार्य करने की योजना बना ली है और बेटे दिन यानी मंगलवार को पीएम मोदी ने स्वयं राष्ट्रपति से मुलाक़ात कर इस संबंध में बातचीत की थी। जिसके बाद भारत सरकार ने एक्शन में आते हुए ‘ऑपरेशन गंगा’ को अधिक गति देने के लिए एयरफोर्स के c-17 विमान को भारतीयों को वापस लाने के काम पर लगाया है। ताकि कम समय में अधिक से अधिक भारतीयों को वापस वतन लाया जा सके। बता दें, वायुसेना का यह खास विमान एक बार में करीब 500 से 700 सौ लोगों को लाने की क्षमता रखता है। जबकि अभी तक यूक्रेन से भारतीयों को वापस लाने में लगे एयर इंडिया के विमानों की क्षमता केवल 250 यात्रियों तक सीमित थी।

देखें वीडियों :-

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

1 + 17 =

Back to top button