12वीं में फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ जैसै विषयों को लिए बिना कर सकेंगे आर्किटेक्चर में ग्रेजुएशन

अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) ने बुधवार को एक बड़ा ऐलान किया है। AICTE ने कहा कि वास्तुकला (architecture), बायो-टेक्नोलॉजी और फैशन टेक्नोलॉजी सहित एक तिहाई इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों के आवेदन करने के लिए 12वीं कक्षा में गणित अब अनिवार्य नहीं है। 29 डिप्लोमा/स्नातक पाठ्यक्रमों में से 10 के लिए गणित को ऑप्शनल बनाया गया है। उन्होंने इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी पाठ्यक्रमों में प्रवेश लेने के इच्छुक उम्मीदवारों की बड़ी राहत प्रदान की है।

रिपोर्टस के अनुसार तकनीकी शिक्षा परिषद ने 2022-2023 के लिए कंप्यूटर साइंस, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग में प्रवेश के लिए केमिस्ट्री विषय को ऑप्शनल बना दिया है। AICTE के अध्यक्ष अनिल डी सहस्रबुद्धे ने मंगलवार को एक ऑनलाइन बैठक में प्रधानाध्यापकों को बताया, “हमने उन छात्रों के लिए एक छोटा सा अवसर प्रदान किया है, जिन्होंने बारहवीं कक्षा में गणित का अध्ययन नहीं किया है और जहां गणित महत्वपूर्ण नहीं है।”

AICTE के अध्यक्ष ने आगे कहा कि, “राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के अनुसार स्कूली शिक्षा प्रणाली को 5 + 3 + 3 + 4 में बांटा गया है। आखिरी चार साल कला, विज्ञान और वाणिज्य स्ट्रीम नहीं होने वाले हैं। वे एक लिबरल टाइप की धारा का अध्ययन करेंगे जहां छात्र गणित, फिजिक्स, मनोविज्ञान, केमेस्ट्री और कम्प्यूटर साइंस ले सकते हैं।”

इनमें से कोई भी तीन विषय होना जरूरी

हालांकि, फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स के अलावा जो विषय उपरोक्त तीनों पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए पात्र हैं, उनमें कंप्यूटर विज्ञान, इलेक्ट्रॉनिक्स, इंफोर्मेशन टेक्नोलॉजी, जीव विज्ञान, इंफोर्मेटिक्स प्रैक्टिस, जैव प्रौद्योगिकी, तकनीकी व्यावसायिक विषय, कृषि, इंजीनियरिंग ग्राफिक्स, व्यावसायिक अध्ययन और उद्यमिता आदि शामिल हैं।

गौरतलब है कि अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) ने अपने 2021-22 के दिशानिर्देशों में सभी इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों के लिए गणित और फिजिक्स को वैकल्पिक बना दिया था, जिसकी खूब आलोचना हुई थी। शिक्षा क्षेत्र के एक्सपर्ट्स ने AICTE के कदम की आलोचना की है। एक्सपर्ट्स का मानना है कि नए नियम से गणित, फिजिक्स और केमेस्ट्री की मूल बातें समझने में मदद नहीं मिलेगी और इसके परिणामस्वरूप खराब गुणवत्ता वाले इंजीनियर तैयार होंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

17 + seventeen =

Back to top button