HC के बाद SC पहुंचा ‘हिजाब मामला’, भाजपा नेता बोले- ‘देशद्रोही हैं ये छात्राएं’

नई दिल्ली। हिजाब विवाद पर कर्नाटक हाईकोर्ट में दायर की गई याचिका के खारिज हो जाने के बाद याचिका दायर करने वाले लड़कियों ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है। बता दें, सुप्रीम कोर्ट इस मामले में होली बाद सुनवाई करेगा। वहीं दूसरी ओर इस मामले में एक नया मोड ये आया है कि भाजपा के वरिष्ठ नेता और उडुपी गवर्नमेंट प्री-यूनिवर्सिटी कॉलेज डेवलपमेंट कमेटी के उपाध्यक्ष यशपाल सुवर्णा ने हिजाब विवाद मामले में याचिका डालने वाली लड़कियों को ‘देशद्रोही’ और ‘आतंकवादी संगठन की सदस्य’ करार दिया है।

बता दें कि हाई कोर्ट ने मंगलवार को हिजाब के समर्थन में इस तर्क को खारिज कर दिया कि हिजाब एक आवश्यक धार्मिक प्रथा है। कोर्ट ने कहा है कि हिजाब इस्लाम का अनिवार्य हिस्सा नहीं है। और विद्यार्थी स्कूल यूनिफॉर्म पहनने से मना नहीं कर सकते। स्कूलों में हिजाब पहनना अनिवार्य नहीं है।

खबरों के मुताबिक़ कोर्ट के इस फैसले का विरोध करने वाली छात्राओं को भाजपा के वरिष्ठ नेता यशपाल सुवर्णा ने देशद्रोही बताया है। उन्होंने कहा, “लड़कियों ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि वे छात्र नहीं बल्कि एक आतंकवादी संगठन की सदस्य हैं। उच्च न्यायालय के फैसले के खिलाफ बयान देकर उन्होंने विद्वान न्यायाधीशों की अवहेलना की है। उनका बयान अदालत की अवमानना ​​है।”

बीजेपी के अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) मोर्चा के राष्ट्रीय महासचिव सुवर्णा ने कहा, “हमें उनसे देश के लिए क्या उम्मीद करनी चाहिए, जब ये छात्र विद्वान न्यायाधीशों द्वारा दिए गए फैसले को राजनीति से प्रेरित और कानून के खिलाफ बता रही हैं? उन्होंने केवल यह साबित किया है कि वे देशद्रोही हैं।” हिजाब पर आए कर्नाटक हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ याचिकाकर्ता द्वारा सुप्रीम कोर्ट जाने पर भाजपा नेता ने कहा कि अभी हाई कोर्ट का आदेश सिर्फ राज्य तक ही रहता लेकिन सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर होने पर अब इस फैसले का असर पूरे देश में होगा। बीजेपी नेता ने कहा, ‘हमें यकीन है कि सुप्रीम कोर्ट एक ऐसा फैसला सुनाएगा जो पूरे देश के लिए बेहतर होगा।’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

17 − 7 =

Back to top button