पटियाला हिंसा मामले में 9 गिरफ्तार, 4 दिन की कस्टडी में भेजा गया मुख्य आरोपी बरजिंदर

नई दिल्ली। हाल ही में हुई पटियाला हिंसा मामले में पुलिस मुस्तैदी से सक्रिय है और अपनी जांच-पड़ताल कर रही है। बताया जा रहा है कि इस मामले में अब तक करीब 9 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। वहीं इस मामले के मुख्य आरोपी बरजिंदर सिंह परवाना को कोर्ट ने चार दिन की कस्टडी में भेजने का आदेश दिया। इस संबंध में IG मुखविंदर सिंह ने रविवार को एक प्रेस कांफ्रेंस के माध्यम से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि किसी भी निर्दोष को परेशान नहीं किया जाएगा लेकिन इसमें शामिल लोगों को गिरफ्तार किया जाएगा और हम उनके खिलाफ चार्जशीट दाखिल करेंगे।

खबरों के मुताबिक़ पुलिस ने तीन सिख कट्टरपंथियों के साथ हरीश सिंघल के जानकार शंकर भारद्वाज को भी गिरफ्तार किया है। अभद्र शब्दों का प्रयोग करने वाले एक अन्य शख्स को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए 20 से अधिक टीम गठित की गई थी।

बता दें, पटियाला में शुक्रवार को खालिस्तान विरोधी मार्च के दौरान दो गुटों में झड़प हो गई थी और इस दौरान तलवारें तक निकल आयीं। पुलिस को हालात पर काबू पाने के लिए गोलियां चलानी पड़ी।

वहीं इस घटना के बाद पंजाब सरकार के निर्देश पर पटियाला रेंज के आईजी, पटियाला के एसएसपी और एसपी का ट्रांसफर कर दिया था। 

पटियाला हिंसा के बाद विपक्षी दलों का पंजाब की आप सरकार पर हमला जारी है। हरियाणा के गुरुग्राम में राज्य के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय सीमा पर स्थित इस राज्य पर शासन करने के लिए आप सरकार पूरी तरह अनुपयुक्त है। हमने पहले ही कहा था कि आम आदमी पार्टी का खालिस्तान के प्रति सॉफ्ट कॉर्नर है।

शिरोमणि अकाली दल (शिअद) प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने पटियाला में हुई हिंसा को पंजाब की आप सरकार की प्रशासनिक नाकामी और लापरवाही भरे राजनीतिक अवसरवाद का नतीजा बताया। घटना को लेकर मुख्यमंत्री भगवंत मान की आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार पर निशाना साधते हुए बादल ने कहा, ‘प्रशासनिक नाकामी और लापरवाही भरे राजनीतिक अवसरवाद का सीधा नतीजा है जो राज्य में मौजूदा शासन का हॉलमार्क (निशान) बन गया है।’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

four × 3 =

Back to top button