लखनऊ: अलीगंज स्थित हनुमान सेतु मंदिर को आई धमकी भरी चिट्ठी, 14 अगस्त तक मुजाहिदों को छोड़ दो वरना मंदिर,आरएसएस दफ्तर उड़ा देंगे…

Author : Anushi Gupta

यूपी की राजधानी लखनऊ के प्राचीन मंदिर और आरएसएस के दफ्तर को धमकी भरा पत्र मिलने पर राजधानी में हड़कंप मच गया है। रजिस्टर्ड डाक से शुक्रवार शाम मंदिर परिसर में जब धमकी भरा खत मिला तो वहाँ हड़कंप मच गया। मंदिर के व्यवस्थापक ने इसकी सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी।मामले की संवदेनशीलता को देखते हुए मौके पर पुलिस तैनात कर दी गई है।

राजधानी के कई बड़े मंदिर और आरएसएस के कार्यालय को लेकर धमकी भरा पत्र मिला है। रजिस्टर्ड डाक से यह पत्र अलीगंज हनुमान मंदिर के पते पर आया है। खुद को जेहाद समर्थक बताते हुए पत्र में कहा गया कि अगर 14 अगस्त की शाम तक मुजाहिदों को रिहा नहीं किया गया तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहें। पत्र मिलने के बाद मंदिर प्रशासन से जुड़े लोगों ने संयुक्त पुलिस आयुक्त अपराध व मुख्यालय नीलाब्जा चौधरी से संपर्क किया है। पत्र जिस लिफाफे में आया, उस पर त्रिवेणीनगर के उप डाकघर की मुहर लगी है। पत्र भेजने वाले के नाम व पते के स्थान पर जोगिंदर सिंह, खदरा मदेयगंज लिखा हुआ है। यह भी कहा गया है कि दस लोगों की सूची तैयार है उसमें कुछ आरएसएस के बड़े पदाधिकारी भी हैं। पत्र की भाषा बेहद संवेदनशील और भड़काऊ है। इसमें महिलाओं के लिए भी अपशब्द लिखे गए हैं। इसकी जांच के लिए क्राइम ब्रांच की टीम को लगा दिया गया है। फिलहाल पुलिस अभी मामले में कुछ खुलकर नहीं बोल रही है। एटीएस की टीम शकील के मोबाइल की डिटेल खंगाल रही है। वहीं, उसके ठिकानों पर छापेमारी करने की तैयारी शुरू कर दी गई है।

इससे पहले यूपी एटीएस ने लखनऊ के दुबग्गा इलाके से अलकायदा के संदिग्ध आतंकवादी मिनहाज और मसीरुद्दीन को गिरफ्तार किया था। दोनों आतंकी मुशीरुद्दीन और मिनहाज को कोर्ट ने 14 दिन की रिमांड पर एटीएस को सौंपा था। पूछताछ के दौरान 3 नाम सामने आए थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fourteen − 4 =

Back to top button