बकरीद के पहले थी लखनऊ में ब्लास्ट की साजिश : ई-रिक्शा के जरिए तीन स्थानों पर करना था धमाका, चार संदिग्ध और निशाने पर…

दो दिन पूर्व ATS द्वारा दबोचे गये दोनों आतंकियों के जरिए अलकायदा ने लखनऊ को बकरीद के पहले दहलाने की साज़िश बना लिया था। इसके लिए पिछले जनवरी से भीड़-भाड़ वाले इलाकों की रेकी कराई गई थी। इस योजना को अमली जामा पहनाने के लिए कश्मीर से दो कमांडर तौहीद व मूसा आने वाले थे। जो शुक्रवार को होने वाले धमाके की तारीख व समय तय करते। जिसके बाद राजधानी में तबाही का मंजर खड़ा किया जाता। इसकी पूरी तैयारी कर ली गई थी।

ATS के अधिकारी के मुताबिक मिनहाज और मुशीर दोनों काफी शातिर हैं। अलकायदा संगठन के जम्मू-कश्मीर में रहने वाले दो कमांड तौहीद व मूसा के सीधे संपर्क में थे। दोनों को यूपी में दहशत फैलाने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। इसकी शुरूआत बकरीद के पहले राजधानी लखनऊ से की जानी थी। योजना भी ऐसी खतरनाक थी कि एक धमाके से सैकड़ों लोगों की जान चली जाती। धमाके के लिए राजधानी के दो प्रमुख मंदिर और एक भीड़भाड़ वाला बाजार भी तय कर लिया गया था।

बुधवार तक पहुंचने वाले थे कश्मीर के दोनों कमांडर 
ATS के मुताबिक राजधानी को दहलाने की तैयारी का जायजा लेने और उसे अमली जामा पहनाने के लिए अलकायदा के दो प्रमुख कमांडर तौहीद व मूसा कश्मीर से लखनऊ आने वाले थे। अब तक की पड़ताल में सामने आया कि यह दोनों बुधवार तक लखनऊ पहुंचते। इसके बाद सीधे मिनहाज के घर जाते। जहां पर राजधानी के प्रमुख स्थानों को दहलाने के लिए गोपनीय बैठक करते। उनकी तैयारियों का जायजा लेते। इसके बाद मिनहाज और मुशीर को काम को अंजाम देने के लिए मोटी रकम उपलब्ध कराते। उनके साथ चिह्नित किये गये स्थानों पर जाकर भीड़भाड़ का अनुमान लगाते। फिर धमाके की तारीख व समय नियत कर वापस चले जाते। इसके बाद दोनों से सोशल मीडिया प्लेटफार्म के जरिए संपर्क में रहते।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × 4 =

Back to top button